कानपुर में बीए की स्टूडेंट के रेप आरोपी की जेल में मौत, पुलिस को पिटाई की आशंका

Smart News Team, Last updated: 07/03/2021 03:07 PM IST
  • कानपुर के सचेंडी थाना क्षेत्र में शुक्रवार को एक व्यक्ति नेबीए की स्टूडेंट के दुष्कर्म साथ किया था. शनिवार को ग्रामीणों ने पकड़कर पीटा और पुलिस के हवाले किया था. आरोपी ने जेल में ही तोड़ा दम.
कानपुर में बीए की स्टूडेंट के रेप आरोपी की जेल में मौत, पुलिस को पिटाई की आशंका

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में रविवार को चौबेपुर अस्थाई जेल में बंद एक दुष्कर्म के आरोपी की मौत हो गई. दुष्कर्म की घटना के बाद शनिवार को ग्रामीणों ने उसे बेरहमी से पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया था. आरोपी को पुलिस ने शुक्रवार को दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार कर शनिवार को कोर्ट में पेशी के बाद अस्थाई जेल भेज दिया था. जहां उसकी मौत हो गई. जेल के डॉक्टर ने पिटाई से मौत होने की आशंका जताई है. सूचना मिलते ही एसपी, सीओ, जेल अधीक्षक समेत कई अधिकारी चौबेपुर पहुंचे.

मामला सिचेंडी थाना क्षेत्र का है जहां शुक्रवार को देर शाम शौच के लिए गई बीए की छात्रा को उसी गांव का रहने वाला सुबोध बाजपेई जबरन खेत में खींच कर ले गया और छात्रा के साथ दुष्कर्म किया. नशे में दूत सुबोध छात्रा का रेप कर के मौके से फरार हो गया. छात्रा ने बड़ी मुश्किल से घर पहुंच कर परिजनों को घटना की जानकारी. पहले तो छात्रा के परिजन आरोपी के घर पहुंचे लेकिन आरोपी के न मिलने पर थाने जाकर उसके खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया.

कानपुर में छेड़छाड़ के मामले में डीएवी कॉलेज के प्रोफेसर सस्पेंड

मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपी की तलाश के लिए टीम लगा दी लेकिन, शनिवार को ग्रामीणों ने छिपे आरोपी सुबोध को खेतों में से पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई कर दी और उसके बाद ग्रामीणों ने सुबोध को पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस ने पहले आरोपी सुबोध का मेडिकल कराया और उसके पेशी के लिए उसे कोर्ट ले गए. 

कानपुर में शत्रु संपत्तियों पर अवैध कब्जे और निर्माण को लेकर 3 और FIR

कोर्ट में मुकदमे की सुनवाई के बाद आरोपी को चौबेपुर अस्थाई जेल भेज दिया गया था. जहां रविवार यानी आज सुबह 10 बजे आरोपी सुबोध बाजपई की मौत हो गई. चौबेपुर सीएचसी के डॉ. यशोवर्धन ने कहा कि पिटाई से मौत हो जाने की आशंका जताई जा रही है, बाकी बातें पोस्टमार्टम में साफ होंगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें