मकान मालिक के बेटे ने 11 साल की बच्ची को बनाया हवस का शिकार, रेप आरोपी अरेस्ट

Smart News Team, Last updated: Tue, 19th Jan 2021, 10:26 PM IST
  • दबौली वेस्ट इलाके में 11 वर्षीय छात्रा के साथ रेप का मामला सामने आया है. पीड़िता छठी कक्षा की छात्रा है. परिजनों ने आरोपी की जमकर पिटाई की और इसके बाद पुलिस को सौंप दिया. पुलिस ने पीड़िता की मां की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ रेप और पॉक्सो एक्ट की धारा में रिपोर्ट दर्ज कर लिया है.
(प्रतिकात्मक फोटो)

कानपुर- दबौली वेस्ट इलाके में 11 वर्षीय छात्रा के साथ रेप का मामला सामने आया है. पीड़िता छठी कक्षा की छात्रा है. परिजनों ने आरोपी की जमकर पिटाई की और इसके बाद पुलिस को सौंप दिया. पुलिस ने पीड़िता की मां की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ रेप और पॉक्सो एक्ट की धारा में रिपोर्ट दर्ज कर लिया है.

मिली जानकारी के मुताबिक पीड़िता अपने परिजनों के साथ गोविंदनगर दबौली वेस्ट इलाके में रहती है. घर के पास रहने वाले रिश्तेदार ने बताया कि किशोरी के पिता साइटिका की समस्या से ग्रसित हैं. मंगलवार सुबह वह पत्नी को लेकर सचेंडी स्थित डॉक्टर के पास गए थे. उनका बेटा घर के बाहर खेल रहा था, जबकि बेटी कमरे में झाड़ू लगा रही थी. तभी मकान मालिक का आरोपी बेटा अमन पाल कमरे में घुस गया और दरवाजे को लॉक कर दिया. इसके बाद आरोपी ने नाबालिग के साथ रेप किया.

GST विभाग की जांच में बड़ा खुलासा, जालसाज ने क्रियाघर के पते पर खोली कंपनी

बताया जा रहा है कि इसी बीच पीड़िता के परिजन आ गए. परिजनों ने पाया कि दरवाजा अंदर से बंद है. जिसके बाद उन्होंने धक्का देकर दरवाजे को खोला. इसके बाद गुस्साए परिजनों ने आरोपी को जमकर पीटा. शोर की आवाज सुनकर मोहल्ले के कई लोग वहां पहुंच गए और पुलिस को इसकी जानकारी दी. मौके पर पहुंची पुलिस आरोपित को थाने ले गई. चौकी इंचार्ज रामसिंह ने बताया कि आरोपित के खिलाफ पॉक्सो और रेप की धारा में एफआईआर दर्ज की गई है. पीड़िता को मेडिकल के लिए भेज दिया गया है.

कानपुर : सेना में एलडीसी भर्ती घोटाला, सीबीआई ने दर्ज किया केस

कानपुर सर्राफा बाजार में सोना चांदी के भाव में आया उछाल, क्या है आज का मंडी भाव

ATM लूटने का ये अंदाज कर देगा हैरान, दो हफ्ते तक होती रही चोरी किसी पता नहीं चला

कानपुर मेट्रो देगा डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा, कैश और टोकन सिस्टम नहीं होगा

कानपुर में कम हो रहा कोरोना प्रकोप, रविवार को 5 नए मामले, कोई मौत नहीं

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें