कानपुर: अब मेडिकल स्टोर से नहीं बल्कि कोरोना अस्पतालों से मिलेगी रेमिडिसिविर

Smart News Team, Last updated: Tue, 13th Apr 2021, 6:44 PM IST
  • कोरोना के इलाज में सबसे कारगर एंटीवायरल इंजेक्शन रेमिडिसिविर अब मरीजों को सीधे कोविड अस्पताल में मिलेगा. इसे अब सीधे मेडिकल स्टोर से नहीं खरीदा जा सकेगा. प्राइवेट एवं सरकारी अस्पतालों को रेमिडिसिविर का अपना स्टॉक बनाए रखना होगा और अपनी खपत की रिपोर्ट डीएम को भेजनी होगी.
कानपुर: अब मेडिकल स्टोर से नहीं बल्कि कोरोना अस्पतालों से मिलेगी रेमिडिसिविर

कानपुर. कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होने वाला रेमिडिसिविर इंजेक्शन अब मेडिकल स्टोर पर नहीं बल्कि सीधे कोविड अस्पतालों में मिलेगा. कोरोना की इस दूसरी लहर में यह एंटीवायरल इंजेक्शन रेमिडिसिविर सबसे कारगर साबित हुआ है. यह अब मरीजों को सीधे कोविड अस्पतालों में ही मिलेगा. इसके लिए प्राइवेट और सरकारी दोनों अस्पतालों को अपना स्टॉक बनाए रखना होगा. साथ ही इसकी रिपोर्ट डीएम को देनी होगी. ड्रग अथॉरिटी ने नियमों में बदलाव किए है. जिसके अनुसार अब रेमिडिसिविर को सीधे मेडिकल स्टोर से नहीं खरीदा जा सकेगा.

नए नियमों के अनुसार ऐसी व्यवस्था बनाई गई है, जिसमें रेमिडिसिविर इंजेक्जशन के 150-200 डोज रोजाना कंपनी कानपुर को भेज रही है. कंपनी ने मंगलवार को भी 213 रेमिडिसिविर की सप्लाई की है. कोरोना का इलाज कर रहे प्रो. यशवंत राव का कहना है कि इस समय रेमिडिसिविर मरीजों पर बेहतर काम कर रहा है. उनके अनुसार एक मरीज को इसकी चार से पांच डोज देने की जरूरत पड़ जाती है. इसका इस्तेमाल सभी मरीजों में नहीं किया जा सकता, बल्कि इन्हें प्रोटोकॉल के अनुसार इस्तेमाल किया जा रहा है.

कोरोना संक्रमित युवक की मौत, 18 घंटे तक शव उठाने नहीं पहुंची स्वास्थ्य विभाग टीम

कोविड की दवाओं के संबंध में दवा व्यापार मंडल के अध्यक्ष राजेंद्र सैनी का कहना है कि कोविड संक्रमित मरीजों का इलाज करने के लिए दवाएं भरपूर मात्रा में उपलब्ध है. उन्होंने बताया कि दवा बाजार में एंटीवायरल थेरेपी के लिए इस्तेमाल होने वाली एंटीफ्लू टेबलेट भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है. साथ ही मल्टी विटामिन टेबलेट के इंजेक्शन भी है.

नवरात्रि के पहले दिन मंदिरों में लगी भीड़, नहीं पालन हुआ कोविड-19 गाइडलाइन

इसके अलावा दवा बाजार में स्टेरॉयड के तौर पर इस्तेमाल होने वाले इंजेक्शन की भी कमी नहीं है. वहीं ड्रग इंस्पेक्टर संदेश कुमार मौर्या का कहना है कि कोविड अस्पतालों को रोजाना इंजेक्शन की सप्लाई की जा रही है. इन अस्पतालों को दवाओं एवं इंजेक्शन की अपनी खपत रोजाना डीएम को रिपोर्ट करनी होगी.

देसी उत्पादों को ब्रांड बनाकर विदेशों में निर्यात कर रहे छोटे व्यापारी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें