संजीत हत्याकांड मामले में अखिलेश यादव से मिलने जा रहे परिजनों को पुलिस ने रोका

Smart News Team, Last updated: 27/08/2020 03:26 PM IST
  • कानपुर के संजीत अपहरण-हत्याकांड मामले में पुलिस को चकमा देकर संजीत के परिजन पूर्व सीएम अखिलेश यादव से मिलने लखनऊ जा रहे थे. पुलिस को सूचना मिलते ही रास्ते में रोका गया.
संजीत के परिजन पुलिस को चकमा देकर लखनऊ अखिलेश यादव से मिलने जा रहे थे.

कानपुर. संजीत अपहरण-हत्याकांड मामले में परिजन पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मिलने जा रहे थे. पुलिस ने रामादेवी फ्लाईओवर पर संजीत के परिजनों की गाड़ी को रोका. पुलिस को चकमा देकर संजीत के परिजन सपा नेता सम्राट विकास के साथ पूर्व सीएम अखिलेश से मिलने लखनऊ जा रहे थे.

कानपुर के रामादेवी फ्लाईओवर पर संजीत के परिजनों को रोक गोविंद नगर थाने के सीओ समेत तीन थानों की फोर्स वहां पहुंच गई. गुरुवार की सुबह संजीत के पिता चमनलाल, बहन रूचि और मां कुसुमा सपा नेते सम्राट विकास के साथ कार से लखनऊ जा रहे थे. 

इस बात की सूचना पुलिस को मिली तो गोविंद नगर थाने के सीओ वी के पांडेय समेत बर्रा, नौबस्ता पुलिस ने संजीत के परिजनों को रोक लिया. सपा नेता सम्राट विकास ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने फोन पर संजीत से बात करने के बाद मिलने की इच्छा जाहिर की है. 

कानपुर के प्राइवेट कोरोना अस्पतालों में 9 दिनों में 25 मौत, बिफरा प्रशासन

अखिलेश यादव ने गुरुवार की दोपहर को लखनऊ आने के लिए कहा था. पुलिस ने अधिकारियों से जानकारी लेने तक संजीत के परिजनों को फ्लाईओवर पर ही रोके रखा.  

कानपुर: केमिकल फैक्ट्री में ब्वायलर फटने से 6 मजदूर झुलसे, तीन की हालत गंभीर

संजीत के परिजनों ने दो दिन पहले भी पुलिस को चकमा देकर चौक पर धरने के लिए बैठ गए थे. धरने के दौरान संजीत की बहन रूचि सड़क पर ही लेट गई थी. पुलिस ने बड़ी ही मशक्कत के बाद परिजनों को सड़क से उठाया था. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें