कबाड़ गोदाम में हुआ शॉर्ट सर्किट, एक दर्जन दमकल गाड़ियों ने पाया आग पर काबू

Smart News Team, Last updated: Sat, 3rd Apr 2021, 3:16 PM IST
  • कानपुर के कोयला नगर इलाके में शनिवार को कबाड़ के गोदाम में शार्ट सर्किट होने के कारण आग लग गई. फायर स्टेशन से करीब एक दर्जन दमकल गाड़ियां पहुंची. करीब तीन घण्टे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया.
कबाड़ गोदाम में हुआ शॉर्ट सर्किट, एक दर्जन दमकल गाड़ियों ने पाया आग पर काबू

कानपुर। कानपुर के चकेरी क्षेत्र स्थित कोयला नगर इलाके में शनिवार को कबाड़ के गोदाम में शार्ट सर्किट होने के कारण आग लग गई. आग की ऊंची ऊंची लपटों से पूरे इलाके में दहशत फैल गयी. मौके पर पहुंची एक दर्जन दमकल की गाड़ियों ने आग पर काबू पाया. गोदाम के बाहर स्थित अंग्रेजी शराब का ठेका भी आग की चपेट आ गया. वहां पर सेल्समैन की खड़ी बाइक भी जल गई.आग की लपटों से घिरे आवासीय इलाके के लोगों की जान सांसत में रही.

कानपुर के कोयला नगर चौकी के पास मंजीत सिंह के प्लाट में कोयला नगर निवासी मेवा लाल का कबाड़ का गोदाम है. इसी प्लाट के बाहर की तरफ गोविंद नगर निवासी अनिल कुमार का अंग्रेजी शराब ठेका भी है. नौबस्ता निवासी सेल्स मैन प्रमोद कुमार ने बताया कि शार्ट सर्किट होने के कारण गोदाम के बाहर पड़े कबाड़ में आग लग गई. आग ने ठेके समेत पूरे गोदाम को चपेट में ले लिया.

कानपुर में 11वीं की छात्रा ने छेड़खानी से परेशान होकर आत्महत्या का किया प्रयास

इतना ही नही, ठेके के बाहर खड़ी सेल्समैन की बाइक भी जल गई. आग लगते ही गोदाम में कबाड़ की छटाई कर रहे तकरीबन 20 मजदूरों में भगदड़ मच गई. आग के कारण आस पास की दुकानों समेत सीओडी कॉलोनी में भी दहशत फैल गयी. इलाके के लोगों ने दमकल को सूचना दी. मीरपुर, जाजमऊ, फजलगंज, लाटूश रोड फायर स्टेशन से करीब एक दर्जन दमकल गाड़ियां पहुंची. करीब तीन घण्टे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया.

कबाड़ गोदाम में हुआ शॉर्ट सर्किट, एक दर्जन दमकल गाड़ियों ने पाया आग पर काबू

मुख्तार अंसारी को मोहाली कोर्ट से भी झटका, अंसारी को वापस आना होगा यूपी के जेल

इलाके में रहने वाले पवन शुक्ला, रिषी, कुलदीप आदि ने बताया कि गोदाम के पीछे सीओडी कॉलोनी है. इसके अलावा कई कबाड़ गोदाम तो कॉलोनी के अंदर भी चल रहे हैं. जिससे इस प्रकार की घटना होने का डर बना रहता है. शिकायत के बाद भी कबाड़ गोदामो को यहां से नही हटाया जा रहा है. जिससे इलाके के लोगों में आक्रोश है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें