GSVM मेडिकल कॉलेज हॉस्टल से 6 छात्र पैग बनाते गिरफ्तार, प्रॉक्टोरियल बोर्ड करेगा सख्त कार्रवाई

ABHINAV AZAD, Last updated: Tue, 16th Nov 2021, 12:22 PM IST
  • जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के ब्यॉयज हॉस्टल में छह छात्रों को पैग बनाते पकड़े जाने के बाद आरोपियों को प्रॉक्टोरियल बोर्ड ने तलब किया. शाम चार बजे बोर्ड की मीटिंग में सजा के प्रावधानों पर चर्चा होगी.
जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज कानपुर.

कानपुर. जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के ब्यॉयज हॉस्टल में छह छात्रों को पैग बनाते पकड़ा गया. दरअसल, छापामार दल ने अपनी कार्रवाई में छात्रों को पैग बनाते पकड़ा. जिसके बाद छह छात्रों समेत सहयोग करने वाले एक छात्र को प्रॉक्टोरियल बोर्ड ने तलब किया. मंगलवार को तलब किए गए सभी छात्र प्राचार्य कार्यालय में पेश हुए. इस पेशी के दौरान छात्रों ने प्रिंसिपल ने सामने अपनी दलील रखी.

हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि बोर्ड के सदस्य आरोपित छात्रों को कड़ी से कड़ी सजा देने के का मन बना चुके हैं. चूंकि सभी छात्रों रंगे हाथों पैग बनाते पकड़ा गया है. इसलिए, इस बात की संभावना प्रबल है कि बोर्ड के सदस्य उन्हें कड़ी से कड़ी सजा देंगे. बोर्ड सदस्यों में शामिल एक शख्स का कहना है कि चूंकि सभी छात्र इंटर्न हैं. ऐसे में अगर उन्हें एक दिन के लिए भी निलंबित किया जाता है तो उनकी एमबीबीएस डिग्री कैंसिल हो सकती है.

कानपुर के GSVM मेडिकल कॉलेज में बनेगा स्टेम सेल कमेटी, ICMR और DST करेगा मदद

बोर्ड सदस्यों में शामिल एक मेंबर ने बताया कि मानवीय आधार पर सजा कम की जा सकती है. लेकिन यह तय है कि सजा कड़ी से कड़ी दी जाएगी. इस बाबत मंगलवार शाम चार बजे बोर्ड की एक और मीटिंग बुलाई गई है. दरअसल, शाम चार बजे बोर्ड की मीटिंग में सजा के प्रावधानों पर चर्चा होगी. प्राचार्य प्रो. संजय काला ने बताया कि हॉस्टल में इस तरह नशेबाजी करना गंभीर मामला है. उन्होंने आगे कहा कि आरोपी छात्रों को सजा इस तरह दी जाएगी ताकि आने-वाले वक्त में छात्र ऐसा नहीं कर पाएं. बताते चलें कि कानपुर के जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के ब्यॉयज हॉस्टल में छापामार दल ने अपनी कार्रवाई में छह छात्रों को पैग बनाते पकड़ा. जिसके बाद सभी आरोपी छात्रों को प्रॉक्टोरियल बोर्ड के समक्ष पेश किया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें