लखनऊ में पकड़े आतंकियों का कानपुर में है फाइनेंस कनेक्शन, ATS ने बिल्डर को उठाया

Smart News Team, Last updated: Tue, 13th Jul 2021, 9:37 AM IST
लखनऊ के काकरी में एटीएस द्वारा पकड़े गए आतंकवादियों को लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है. दरअसल इन आतंकवादियों के फाइनेंस को लेकर खुलासा हो गया है. खबरों के अनुसार इन आतंकियों को कानपुर से फंड मिलता था.
एटीएस द्वारा पकड़े गए आतंकवादियों को कानपुर से मिलता था फंड

कानपुर. यूपी एटीएस ने लखनऊ के काकोरी से दो आतंकियों को गिरफ्तार किया था. अलकायदा से जुड़े अंसार गजवत-उल-हिंद के इन आतंकियों के पास से छापेमारी के दौरान विस्फोटक और हथियार भी बरामद किए. अब इन आतंकियों के फंड को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है. खबरों के अनुसार लखनऊ से पकड़े गए दो आतंकियों का कानपुर से फाइनेंस कनेक्शन सामने आया है.

इस केस में यूपी एटीएस ने कानपुर के एक बड़े बिल्डर को उठा लिया है, लेकिन अभी इस बिल्डर का नाम सामने नहीं आया है. आरोप है कि ये बिल्डर ही आतंकियों को फंडिंग करता था. एनआई-एटीएस अदालत ने गिरफ्तार अल-कायदा समर्थित गजवत-उल-हिंद के दो कथित आतंकवादियों को 14 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है.

एटीएस द्वारा गिरफ्तार किए गए इन दो आतंकियों की पहचान मसीरुद्दीन और मिन्हाज अहमद के रूप में हुई है. दोनों आतंकी संगठन गजवत-उल-हिंद के संदिग्ध सदस्य हैं. यूपी एटीएस और लखनऊ पुलिस द्वारा रविवार को सिलसिलेवार छापेमारी के दौरान दोनों को हिरासत में लिया गया था. इस मामले को लेकर एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि पांच अन्य संदिग्धों को पकड़ने के लिए कानपुर समेत पूरे यूपी में तलाशी की जा रही है.

कानपुर: पुलिस मुठभेड़ में घायल हुआ हिस्ट्रीशीटर शाहिद पिच्चा, पैर में लगी गोली

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें