कानपुर : इंस्पेक्टर पर सिपाही की मदद से 1 लाख वसूलने का आरोप, जानें डिटेल

Smart News Team, Last updated: 07/04/2021 11:10 AM IST
  • कल्याणपुर पुलिस मारपीट के मामले में सवालों के घेरे में है. पुलिस पर आरोप है कि कुछ दिन पहले पीड़ित बीयर शॉप के मालिक पर ही केस दर्ज कर शातिर अपराधी और उसके साथियों पर मेहरबानी की थी और पीड़ित को छोड़ने के नाम पर एक लाख रुपये वसूले. इसके बाद बीयर शॉप मालिक की पत्नी ने इंस्पेक्टर कल्याणपुर के खिलाफ डीसीपी पश्चिम को लिखित शिकायत की.
पुलिस पर पीड़ित को छोड़ने के नाम पर एक लाख रुपये वसूलने का आरोप है. (प्रतिकात्मक फोटो)

कानपुर- जिले की कल्याणपुर पुलिस मारपीट के मामले में सवालों के घेरे में है. पुलिस पर आरोप है कि कुछ दिन पहले पीड़ित बीयर शॉप के मालिक पर ही केस दर्ज कर शातिर अपराधी और उसके साथियों पर मेहरबानी की थी और पीड़ित को छोड़ने के नाम पर एक लाख रुपये वसूले.

बताते चलें कि इसके बाद बीयर शॉप मालिक की पत्नी ने इंस्पेक्टर कल्याणपुर के खिलाफ डीसीपी पश्चिम को लिखित शिकायत की. फटकार पड़ी तो पूरे पैसे वापस कर दिए गए. फिलहाल, मामले की पड़ताल शुरू हो गई है. मिली जानकारी के मुताबिक, नानकारी निवासी मोनू गौड़ की शिवली रोड पर बीयर शॉप है.

यूपी की ये मशहूर 145 साल पुरानी इमारत जल्द होगी बंद, जानें लाल इमली की खासियत

मोनू की पत्नी प्रियंका ने कल्याणपुर इंस्पेक्टर जनार्दन प्रताप सिंह पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, डीसीपी पश्चिम संजीव त्यागी के पास पहुंची और बताया कि मारपीट के बाद पुलिस ने उनके पति को ही हवालात में डाल दिया था. सिपाही धीरेंद्र के जरिये एक लाख रुपये की मांग की गई. जब पैसे दिए गए तब उनके पति को छोड़ा.

UP में बनेंगी वर्ल्ड की लेटेस्ट ब्लास्ट प्रूफ गाड़ी, सेना का भी ऑर्डर, जानें कीमत

कानपुर सर्राफा बाजार में सोना रुका चांदी की कीमतें गिरी, सब्जी मंडी थोक रेट

कानपुर में बोले शिवपाल यादव- किसान, नौजवान और मुसलमान की विरोधी है भाजपा

मुख्तार अंसारी की वापसी में बदला काफिले का रूट, चप्पे-चप्पे पर थी पुलिस की नजर

बांदा जेल पहुंचा मुख्तार अंसारी, जानें किस बैरक में है मुख्तार का नया ठिकाना

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें