छात्रा ने फर्स्ट सेमेस्टर में छोड़ी पढ़ाई और कॉलेज प्रबंधन मांग रहा 4 साल की फीस

Smart News Team, Last updated: Wed, 17th Mar 2021, 1:52 PM IST
  • कानपुर में इंजीनियरिंग की पूर्व छात्रा ने कॉलेज प्रबंधन पर पूरी फीस के बदले ही ओरिजनल डॉक्यूमेंट्स देने का आरोप लगाया है. वहीं इस बारे में जब कॉलेज प्रबंधन से पूछा गया तो उन्होंने फीस वसूलने की बात से साफ-साफ इंकार कर दिया.
छात्रा का आरोप

कानपुर: इंजीनियरिंग की पूर्व छात्रा ने कॉलेज प्रबंधन पर पूरी फीस के बदले ही ओरिजनल डॉक्यूमेंट्स देने का आरोप लगाया है. वहीं इस बारे में जब कॉलेज प्रबंधन से पूछा गया तो उन्होंने फीस वसूलने की बात से साफ-साफ इंकार कर दिया. कॉलेज प्रबंधन का कहना है पढ़ाई छोड़ने के बाद अगर छात्रा को डॉक्यूमेंट्स चाहिए तो इसके लिए उसे डायरेक्टर को पत्र लिखना पड़ेगा.

मामला नौबस्ता इलाके का है, जहां के संजय गांधी नगर में रहने वाली छात्रा नेहा दुबे ने 2019 में एक्सिस कॉलेज में इंजीनियरिंग में एडमिशन लिया था. नेहा ने बीटेक फर्स्ट ईयर में एडमिशन के वक्त 50 हजार रुपए और वेरिफिकेशन के नाम पर अपने ओरिजनल डॉक्यूमेंट्स जमा किए थे.

कानपुर में शातिर टप्पेबाजों का गिरोह सक्रिय, व्यापारी से लाखों की लूट

नेहा दुबे के मुताबिक कोरोना लॉकडाउन में उसके पिता के निधन के बाद उसकी भी तबीयत खराब हो गई थी, जिस वजह से उसे अपनी पढ़ाई बीच में हीछोड़नी पड़ी. नेहा ने बताया कि घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी.

डुप्लीकेट मास्कीटो क्वाइल के कारखाने का खुलासा,नामी ब्रांड की नकली अगरबत्ती जब्त

नेहा ने कहा कि बाद में जब वो अपने चाचा के साथ ओरिजनल डॉक्यूमेंट्स लेने के लिए कॉलेज गई, तो वहां कॉलेज प्रबंधन ने उससे पूरी 4 साल की फीस देने के बाद ही डॉक्यूमेंट्स देने को कहा. छात्रा का कहना है कि ओरिजनल डॉक्यूमेंट्स न होने के कारण वो किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में हिस्सा नहीं ले पाएगी. हालांकि बात मीडिया में आने के बाद कॉलेज प्रबंधन इससे इंकार कर रहा है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें