कानपुर में सड़क पर मिली पिस्टल, किसकी है पता नहीं, ट्रैफिक कांस्टेबल की सराहना

Smart News Team, Last updated: 26/10/2020 05:08 PM IST
सड़क पर पिस्टल मिलने पर हेड कांस्टेबल ने अपनी कर्तव्य निष्ठा को पूरा करते हुए उसे गणना कार्यालय में जमा करा दी, साथ ही इसकी सूचना उच्च अधिकारियों को भी दे दी. हेड कांस्टेबल के अपनी ड्यूटी के प्रति निष्ठा की विभाग में सराहना हो रही है। एसपी ट्रैफिक ने उनको पुरस्कृत करने की बात भी कही है.
कानपुर के ट्रैफिक हेड कांस्टेबल को सड़क पर एक पिस्टल मिली।  

कानपुर.कानपुर के अर्मापुर में ट्रैफिक पुलिस के हेड कांस्टेबल को सड़क पर एक पिस्टल मिली है. इस पर अंग्रेजी और हिंदी में जीएसएफ लिखा है. काफी खोजबीन के बाद यह नहीं पता चल सका कि पिस्टल किसकी है और सड़क पर कैसे गिर पड़ी. हेड कांस्टेबल ने पिस्टल को ट्रैफिक पुलिस लाइन में जमा कराकर उच्चाधिकारियों को सूचना दे दी. माना जा रहा है कि यह किसी सैन्य अफसर की पिस्टल है. फिलहाल पिस्टल का पता लगाने और खोजबीन करने के लिए किसी ने भी अब तक पुलिस से संपर्क नहीं किया है.

दशहरे पर यहां होती है रावण की पूजा, जानें कानपुर के इस मंदिर की खासियत

कानपुर के एसपी ट्रैफिक बसंत लाल के मुताबिक रविवार को हेड कांस्टेबल गिरिराज सिंह की ड्यूटी अर्मापुर में लगी थी. इसी दौरान उनको कालपी रोड पर एक पिस्टल सड़क पर पड़ी दिखी. गिरिराज सिंह उसको लेकर पता करने की कोशिश की लेकिन कुछ पता नहीं चलने पर उसे गणना कार्यालय में जमा करा दी. पिस्टल किन हालात में गिरी और किसकी है, इसका पता लगाया जा रहा है. 

एसपी ट्रैफिक बसंत लाल ने ट्रैफिक हेडकांस्टेबल गिरिराज सिंह की इस कर्तव्यनिष्ठा पर उनकी तारीफ की और पुरस्कृत करने की बात कही है. आशंका जताई जा रही है कि रविवार को शस्त्र पूजन के लिए कोई अपनी पिस्टल ले जा रहा था, इसी बीच अचानक वह सड़क पर गिर पड़ी हो.

एसपी का कहना है कि पिस्टल खोने और उसका पता लगाने के लिए कोई न कोई थाने में सूचना जरूर देगा। इसके बाद उसकी जांच कराकर इसके मालिक को पिस्टल सौंप दी जाएगी। इसकी सूचना थानों में दे दी गई है। हालांकि अभी तक किसी ने पुलिस से संपर्क नहीं किया। पिस्टल गणना कार्यालय में रखी है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें