विकास के डर से अवैध रौशनी से जगमगा रहा था बिकरू, उस समेत 22 घरों की बिजली गुल

Smart News Team, Last updated: 28/09/2020 12:06 AM IST
  • बिकरू कांड के आरोपी और कुख्यात बदमाश विकास दूबे के गांव में बिजली विभाग ने एक्शन मोड अपनाया है. रविवार को बिजली विभाग ने विकास सहित 22 घरों में चल रही अवैध बिजली काटी.
बिकरू कांड का मुख्य आरोपी विकास दूबे

कानपुर: कुख्यात आरोपी विकास दूबे के बिकरु गांव में उसके घर समेत 22 घरों की बिजली कटने का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि इसमें पुलिस एनकाउंटर में मारे गए प्रवीण दुबे व प्रभात मिश्रा की भी घर शामिल है.

जानकारी के मुताबिक बिकरू कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे सहित इलाके के 22 घरों की बिजली काट दी गई. बता दें कि शातिर विकास दुबे के डर से बिकरू गांव में कनेक्शन लेने के बाद भी कई घरों में मीटर लगाए बिना ही बिजली जलाई जा रही थी. अकेले विकास दुबे के घर पर ही एक किलो वाट के कनेक्शन लेकर बिना मीटर हर महीने औसत बिल पर कूलर, फ्रिज, टीवी व दर्जनों बल्ब चलाया जा रहे था. लेकिन अब बिजली विभाग ने एक-एक घर में मीटर लगाने का अभियान चलाया है.

यूपी में चोरों का आतंक, एक ही रात में तीन घरों से उड़ाए लाखों रुपये और गहने

बिजली विभाग की टीम ने रविवार को सुबह 10 बजे से बिकरू के एक-एक घर की चेकिंग की गई. टीम ने सबसे पहले विकास दुबे के घर का कनेक्शन काटा. उसके घर में पांच कूलर, एसी, सीसीटीवी कैमरे, 50 से ज्यादा बल्ब सिर्फ एक किलोवाट के कनेक्शन पर चल रहे हैं. मीटर न लगने से हर माह औसत बिल जमा किया जा रहा था. प्रवीण, प्रभात के घर में भी एक किलोवाट से ज्यादा लोड मिला.बिकरू कांड में गिरफ्तार उमाकांत, श्यामू, रामू, गोपाल व गोविंद समेत 22 घरों में भी मीटर नहीं लगे मिले। घर में मिले लोग अस्थायी मीटर कनेक्शन के कागजात भी नहीं दिखा पाए। इन सभी घरों के कनेक्शन काट दिए गए। कई घरों का बिल भी 30 हजार रुपए तक बकाया निकला. इस दौरान मैथा सब स्टेशन के एसडीओ सौरभ मिश्रा ने बताया कि एक-एक घर में मीटर लगेगा. बिजली चोरी के अधिनियम के तहत कार्रवाई भी की जाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें