कानपुर-फर्रुखाबाद ट्रैक पर ​मालगाड़ी के दो डिब्बे पलटे, अप-डाउन ट्रैक प्रभावित

Smart News Team, Last updated: Wed, 28th Apr 2021, 2:17 PM IST
  • कानपुर से फर्रुखाबाद जा रही एक मालगाड़ी के पीछे के दो डिब्बे अचानक पलट गए जिसकी वजह से कानपुर-फर्रुखाबाद रेल ट्रैक पूरी तरह बंद कर दिया गया है.
कानपुर-फर्रुखाबाद ट्रैक पर ​मालगाड़ी के दो डिब्बे पलटे, अप-डाउन ट्रैक प्रभावित

कानपुर। उत्तर प्रदेश में कानपुर से फर्रुखाबाद जा रही एक मालगाड़ी के पीछे के दो डिब्बे अचानक पलट गए जिसकी वजह से कानपुर-फर्रुखाबाद रेल ट्रैक पूरी तरह बंद कर दिया गया है. ट्रेन में लगा गार्ड का डिब्बा पटरी से उतर गया और उससे आगे का डिब्बा भी दूसरे ट्रैक पर पलट गया है. इसकी वजह से अप और डाउन दोनों ट्रैक बाधित हो गए है. डिब्बों को सीधा करने के लिए कासगंज से एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन रवाना की गई है. घटना बुधवार दोपहर करीब 12.20 बजे की है. घटना के संबंध में रेलवे ने उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं.

घटना उत्तर प्रदेश की है जहां कानपुर से खाली मालगाड़ी फर्रुखाबाद के लिए जा रही थी. ट्रेन बिल्हौर स्टेशन से पहले ही ककवन रोड रेल क्रासिंग पार कर रही थी तभी अचानक क्रासिंग पार करते हुए पीछे के दो डिब्बे पलट गए. पलटने वाले डिब्बों में से गार्ड का भी डिब्बा शामिल था. डिब्बों के दूसरी ट्रैक पर पलट जाने के कारण अप और डाउन दोनो लाइनें भी बंद हो गई है. घटना में किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं मिली है. कानपुर और कासगंज से एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन ( एआरटी) रवाना कर दी गई है.

कोरोना संक्रमण को लेकर CM योगी ने दिए जरूरी दिशा-निर्देश, जानें डिटेल

ट्रैक पर मालगाड़ी के दो पहिए पलट जाने के कारण आने और जाने वाले दोनों ट्रैक बंद हो गए हैं. इससे कानपुर-कासगंज इंटरसिटी अप और डाउन दोनों को रोकना पड़ा है. अप की ट्रेन चौबेपुर में तथा डाउन की गाड़ी कन्नौज में रोकी गई है. उत्सर्ग एक्सप्रेस को अनवरगंज स्टेशन पर रोका गया. रेलवे अधिकारियों के मुताबिक ट्रैक को बहाल करने में चार घंटे का वक्त भी लग सकता है.

एमेजन, फ्लिपकार्ट समेत इनके जरिए भी होगी ऑक्सीजन सिलेंडर की डिलीवरी- लखनऊ DM

घटना में ककवन रोड क्रासिंग बंद हो जाने से लखनऊ-इटावा रोड भी बंद हो गया है. हादसे की सूचना पर ककवन और बिल्हौर थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई है. पुलिस द्वारा रेल फाटक खुलवाने का प्रयास किया जा रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें