मोदी के आर्थिक नीतियों की वजह से देश कर रहा तरक्की : बाल विकास मंत्री ईरानी

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Sun, 12th Dec 2021, 3:51 PM IST
  • कानपुर के सीएसए कृषि विश्वविद्यालय में रविवार को आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में सिरकत करने पहुंची केंद्रीय बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने मोदी सरकार की कई उपलब्धियां गिनाई. उन्होंने कहा कि इस सरकार ने आर्थिक मोर्चे पर बड़ी उपलब्धि हासिल की है. जिसके चलते देश सभी क्षेत्रों में तेजी तरक्की कर रहा है. 
केंद्रीय बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी

कानपुर. कानपुर के चंद्र शेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (सीएसए) में रविवार को आयोजित प्रधानमंत्री के वर्चुअल कार्यक्रम में मौजूद केंद्रीय बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा है कि मोदी सरकार ने आर्थिक मोर्चे पर बड़ी उपलब्धि हासिल की है. जिसके चलते देश सभी क्षेत्रों में तेजी तरक्की कर रहा है. इसी सरकार ने साल 1962 का कानून बदलकर बैंक ग्राहकों को बड़ी राहत देने का काम किया है. इस कार्यक्रम में डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (डीआईसीजीसी) के लाभार्थियों को चेक वितरित किया गया. इस दौरान कैबिनेट मंत्री ईरानी ने योजना के लाभार्थियों के बीच में बैठकर पूरे वर्चुअल समारोह को देखा.

बता दें कि सीएसए कृषि विश्वविद्यालय के कैलाश सभागार में उद्योग विभाग और बैंक आफ बड़ौदा की ओर से आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में बंद हो गए पीपुल्स कोआपरेटिव बैंक के 672 ग्राहकों को 5-5 लाख रुपये वापस लौटाया गया है.

अस्पताल की लापरवाही! हाथ का इलाज करवाने गए युवक की गलत इंजेक्शन लगने से मौत

वर्चुअल समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी ने वीडियों कान्फ्रेंसिंग के जरिए सभी को संबोधित किया है. इस वर्चुअल कार्यक्रम में केंदीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि यदि बैंक डूब जाता है तो हर ग्राहक को गारंटी के तौर पर अब 5 लाख रुपये मिलते हैं. इससे पहले एक लाख रूपए का नियम था लेकिन वो रूपए किसी को नहीं  मिलते थे. उन्होने कहा है कि मोदी सरकार की सोच है कि बैंक भले ही डूब जाए लेकिन कोई ग्राहक न डूबने पाए. यही कारण है कि आज पीपुल्स कोआपरेटिव बैंक के डूब जाने के बाद भी उसके 672 ग्राहकों को कानपुर के इस समारोह में पांच-पाचं लाख रुपये दिया जा रहा है. पहले की सरकारें कहती जरूर थी मगर उसका किसी को लाभ नहीं मिलता था. इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार की कई दूरगामी उपलब्धियों को गिनाया. केंदीय मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार नीति का परिणाम है कि एक साथ करोड़ गरीबों के जनधन खाते खोले गए. जबकि पिछली सरकारों में गरीबों के पास बैंक खाते ही नहीं होते थे. गरीबों की योजनाएं अफसर, नेता तथा बिचौलिया डकार जाते थे. मगर चीजें बदली है और उसी का परिणाम है कि अब सरकारी योजनाओं के मद में जारी होने वाला पैसा सीधे गरीबों के खाते में पहुंच जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें