यूपी चुनाव: कानपुर में असदुद्दीन ओवैसी को झटका, एक सीट पर ही लड़ पाएगी AIMIM

Jayesh Jetawat, Last updated: Wed, 2nd Feb 2022, 6:25 PM IST
  • यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से पहले असदुद्दीन ओवैसी को झटका लगा है. उनकी पार्टी AIMIM कानपुर की सिर्फ एक सीट पर ही चुनाव लड़ पाएगी. 
AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी (फाइल फोटो)

कानपुर: यूपी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम को बड़ा झटका लगा है. कानपुर की दो विधानसभा सीटों पर ओवैसी की पार्टी के प्रत्याशी चुनाव नहीं लड़ पाएंगे. आर्य नगर सीट से AIMIM प्रत्याशी दिलदार गाजी का पर्चा खारिज हो गया. वहीं सीसामऊ से पार्टी की उम्मीदवार रिया सिद्दीकी नामांकन दाखिल ही नहीं कर पाईं. अब कानपुर में AIMIM का केवल एक प्रत्याशी रह गया है. कानपुर कैंट से मोहम्मद मोइनुद्दीन ही चुनाव लड़ पाएंगे.

असदुद्दीन ओवैसी ने यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में भागीदारी परिवर्तन मोर्चा बनाया है. इसमें एआईएमआईएम के अलावा बाबू सिंह कुशवाहा की पार्टी, बामसेफ, जन अधिकार पार्टी समेत अन्य छोटे दलों को शामिल किया गया है. ओवैसी ने कानपुर की मुस्लिम बाहुल्य तीन सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे, मगर अब उनमें से एक सीट पर ही पार्टी चुनाव लड़ पाएगी.

एआईएमआईएम ने सीसामऊ से रिया सिद्दीकी, आर्य नगर से दिलदार गाजी और कानपुर कैंट से मोहम्मद मोइनुद्दीन को टिकट दिया. मगर दिलदार गाजी का पर्चा खारिज हो गया और रिया सिद्दीकी नामांकन ही नहीं कर पाईं. अब मोहम्मद मोइनुद्दीन ही चुनावी मैदान में बचे हैं. वे कानपुर में पार्टी के जिलाध्यक्ष भी हैं.

यूपी चुनाव में नेताओं को MLC बनाने का लॉलीपॉप देकर टिकट काट रहे अखिलेश- असद्दुदीन ओवैसी

कानपुर में तीसरे चरण में 20 फरवरी को मतदान होगा. मंगलवार को यहां नामांकन का आखिरी दिन था. बुधवार को नामांकन पत्र की स्क्रूटिनी की गई, जिसमें आर्य नगर से AIMIM प्रत्याशी दिलदार गाजी का पर्चा खारिज हो गया. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें