कोरोना की रफ्तार तेज, CM योगी बोले- कानपुर समेत इन 7 शहरों का रखें खास ध्यान

Smart News Team, Last updated: 19/09/2020 08:55 PM IST
कानपुर, लखनऊ और मेरठ में कोरोना की स्थिति को देखते हुए सीएम योगी ने विशेष ध्यान देने को कहा. मुख्यमंत्री ने कानपुर समेत 7 शहरों मे कोरोना के हालात का जायजा लिया.
सीएम योगी ने प्रदेश में कोरोना के हालात को देखते हुए अधिकारियों के साथ बैठक की.

कानपुर. उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर समेत 7 शहरों पर विशेष ध्यान देने को कहा. कानुपर में हर रोज कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं. मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव से कानपुर के हालात के बारे में जानकारी ली. 

मुख्यमंत्री ने शनिवार को अनलॉक की समीक्षा के दौरान कानपुर नगर की स्थिति की जानकारी ली. प्रमुख सचिव ने बताया कि कानपुर सौ फीसदी कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है. मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि ई-संजीवनी ऐप के माध्यम से उपलब्ध कराई जा रही ओपीडी सुविधा का प्रचार-प्रसार किया जाए और जागरूकता अभियान जारी रखें. 

पनकी नहर में नहाने गए युवक की डूबने से मौत, पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा

आपको बता दें कि कानपुर में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं.स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक शुक्रवार को कानुपर में कोरोना के 412 नए मरीज मिले. नए केसों के बाद कानपुर संक्रमितों की संख्या बढ़कर 22 हजार 239 पहुंच गई है. कानपुर में कोरोना से अब तक 573 लोगों की मौत हो चुकी है.वहीं लखनऊ में बीते चौबीस घंटों में कोरोना के 1,244 नए केस सामने आए हैं और 16 लोगों की जान ले ली. राजधानी लखनऊ में कोरोना के 2000 एक्टिव कंटेनमेंट जोन हैं. मेरठ में बीते दिन कोरोना के 161 नए केस सामने आए हैं.

कृत्रिम पैर से कानपुर के अक्षय का साइकिलिंग में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने का लक्ष्य

शनिवार को प्रदेश में कोरोनो वायरस को लेकर योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों के साथ मीटिंग की। इस बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को कानपुर, लखनऊ, प्रयागराज, झांसी, अयोध्या, मेरठ और गोरखपुर में व्यवस्था मजबूत करने के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण नियंत्रण और उपचार की व्यवस्था को और प्रभावी बनाया जाए. इस मीटिंग में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, मुख्य सचिव आरके तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त आलोक टंडन, अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें