कानपुर: घाटमपुर पहुंचे डिप्टी सीएम, किया 242 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास

Smart News Team, Last updated: 23/09/2020 12:17 AM IST
  • दिवंगत कैबिनेट मंत्री के घाटमपुर विधानसभा क्षेत्र में डिप्टी सीएम ने मंगलवार को 242 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास किया. इसके साथ ही उन्होंने उपचुनाव में सहयोग देने की अपील भी की.
डिप्टी सीएम को प्रतीक चिह्न देते श्रीराम ग्रुप के चेयरमैन मनोज भदौरिया.

कानपुर: बीते दिनों कोरोना संक्रमण के कारण घाटमपुर की विधायक व कैबिनेट मंत्री कमलरानी के निधन के बाद खाली सीट पर चुनावी सरगर्मियां तेज हो गई हैं. जिसके बाद घाटमपुर उप चुनाव की जिम्मेदारी डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को मिल गई है. डिप्टी सीएम ने मंगलवार को यहां 271 करोड़ रुपए की योजनाओं का शिलान्यास किया. इस मौके पर उन्होंने विपक्षियों पर भी जमकर निशाना साधा.

जानकारी के मुताबिक मंगलवार दोपहर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य जनता इण्टर कॉलेज परिसर में आयोजित समारोह में पहुंचे. उन्होंने पीडब्ल्यूडी की ओर से जिले भर में प्रस्तावित 242 करोड़ की लागत की 71 परियोजनाओं का शिलान्यास किया. डिप्टी सीएम ने कहा कि दिवंगत मंत्री कमलरानी अपने क्षेत्र के विकास के लिए हमेशा उनसे मिलती थीं. उनका सपना था कि घाटमपुर विकसित हो. वह यहां सभी सुविधाओं के लिए प्रयासरत थीं.

कोरोना काल में घर पर ज़्यादा नहीं नहाए लोग,भारी घाटे में चला गया साबुन का कारोबार

विपक्षियों पर तंज कसते हुए कहा कि कोरोना काल में जहां केन्द्र व प्रदेश सरकार पूरी ताकत से लोगों की सेवा में जुटी थी, समाज के संपन्न लोग भी लोगों की मदद में जुटे थे, वहीं सपा, बसपा और कांग्रेस केवल ट्विटर पर कटाक्ष कर रही थीं. केशव प्रसाद मौर्य ने उपचुनाव में दोबारा भाजपा को जिताने की अपील करते हुए कहा कि यही दिवंगत मंत्री कमलरानी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी.

कानपुर में दिनदहाड़े हत्या, धारदार हथियार से युवक पर हमला, इलाज के दौरान मौत

डिप्टी सीएम ने कहा कि कोरोना के कारण हम सबको छोड़कर चली गईं कैबिनेट मंत्री कमलरानी वरुण को हमेशा याद करने के लिए अब आनूपुर से परास मार्ग का नाम स्व. कमलरानी वरुण मार्ग होगा.कार्यक्रम को राज्यमंत्री नीलिमा कटियार, बिठूर विधायक अभिजीत सिंह सांगा, भगवती प्रसाद सागर, भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेन्द्र सिंह, एमएलसी स्नातक अरुण पाठक, जिलाध्यक्ष कृष्णमुरारी शुक्ला ने भी संबोधित किया। इस दौरान डीएम आलोक तिवारी, डीआईजी प्रीतिंदर सिंह, एसडीएम अरुण श्रीवास्तव के अलावा अन्य पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी भी थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें