कानपुर बार एसोसिएशन चुनाव कैंसिल, गोली चली, वकील घायल, दोबारा होगा मतदान

Swati Gautam, Last updated: Fri, 17th Dec 2021, 8:10 PM IST
  • कानपुर बार एसोसिएशन चुनाव की वोटिंग के दौरान प्रत्याशियों ने जमकर हंगामा किया. इस दौरान फायरिंग भी हुई जिसमें दो वकीलों को गोली लग गई. अभी एक वकील की हालत में सुधार बताया जा रहा है और दुसरे वकील की हालत गंभीर है. साथ ही हंगामें के चलते चुनाव निरस्त करने का फैसला लिया गया है. ये चुनाव अब दोबारा कराए जायेंगे.
हंगामे के चलते कानपुर बार चुनाव निरस्त, दोबारा कराए जायेंगे इलेक्शन

कानपुर. शुक्रवार सुबह से ही कानपुर बार चुनाव की वोटिंग जारी थी लेकिन देर शाम तक प्रत्याशियों का हंगामा जारी रहा इस दौरान जमकर फायरिंग भी हुई जिसमें वकीलों को गोली लग गई. अभी एक वकील की हालत में सुधार बताया जा रहा है और दुसरे वकील की हालत गंभीर है ओटी में भर्ती कराया गया है. चुनाव में हंगामें के चलते चुनाव निरस्त करने का फैसला लिया गया है. जानकारी अनुसार ये चुनाव अब दोबारा कराए जायेंगे. 

बता दें कि सुबह ही बार चुनावों की वोटिंग की प्रक्रिया शुरू कर दी गई थी जिसके तुरंत बाद ही प्रत्याशियों ने चुनाव में मनमानी व पक्षपात करने का आरोप लगाकर जमकर नारेबाजी की थी. जिसके बाद प्रत्याशियों का गुस्सा सातवें आसमान पर देखने को मिला. बवाल के चलते 11 बजे तक वोटिंग प्रभावित रही तकरीबन 11:30 बजे फिर से वोटिंग शुरू कराई गई लेकिन फिर से हंगामा शुरू हो गया. शाम तक हंगामा जारी रहा जिसके चलते चुनाव को निरस्त करने का फैसला लिया गया है. कानपुर बार एसोसिएशन के चुनाव के दौरान हंगामा होते देख भारी संख्या में फ़ोर्स को भी तैनात किया गया था.

बार चुनाव में हंगामा! प्रत्याशियों का गुस्सा सीसीटीवी पर फूटा, कैमरे तोड़े

शताब्दी गेट के सामने टेंट लगाया था जिसे एल्डर्स कमेटी ने तुरंत हटवा दिया था. कई लोगों ने बूथों के कैमरे भी तोड़ दिए थे नारेबाजी शुरू थी. हंगामें के बाद पुलिस व फोर्स की मदद लेनी पड़ी. तकरीबन दो बार चुनावी वोटिंग प्रभावित हुई. प्रत्याशियों को शांत करना काफी मुश्किल होता जा रहा था. शाम तक आते आते हंगामा खत्म नहीं तो बार चुनावों को निरस्त करने का फैसला लिया गया. अब जल्द ही कानपुर बार चुनावों की नई तारीखों की घोषणा की जा सकती है.

बता दें कि बार एसोसिएशन के चुनाव में 16 बूथों में 5733 अधिवक्ताओं को वाट डालना था. सबसे पहले आरओ व एआरओ के साथ प्रत्याशियों को वोट डालना था. वह मतदान नहीं कर सके है. बार चुनाव में 83 प्रत्याशी चुनाव मैदान में है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें