कानपुरः अपाहिज बेटी को बचाने गए परिजनों को दबंगों ने पीटा, पिता ICU में भर्ती

Smart News Team, Last updated: Thu, 13th May 2021, 4:42 PM IST
  • कानपुर के एक गांव में अपाहिज बेटी को बचाने गए परिजनों की दबंगों ने पिटाई कर दी. इसमें लड़की के पिता गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. उनको हैलट अस्पताल के आईसीयू में भर्ती किया गया है. पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है. परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है.
कानपुर के हैलट अस्पताल में भर्ती पिता के परिजनों को रो-रोकर बुरा हाल है.

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर में ऐसा मामला सामने आया है जिसमें दबंग अपाहिज बेटी के साथ जबरदस्ती कर रहे थे. जब पिता और भाई बचाने आए तो दबंगों ने उनको पीटा. इस मारपीट में पिता गंभीर रूप से घायल हैं. आनन-फानन में पिता को हैलट अस्पताल लेकर गए. पिता को आईसीयू में भर्ती किया गया है. आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

पीड़ित परिजनों का पुलिस ने सिर्फ मारपीट का केस दर्ज करके छोड़ दिया है. इस मामले में अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है. वहीं छोटे भाई को हल्की-हल्की चोटें आई हैं. ये मामला कानपुर के जमरही गांव का है. इसी गांव में मुन्ना लाल तिवारी रहते हैं. उनकी एक अपाहिज बेटी भी है. परिजनों के मुताबिक, वो भूसा भरने के लिए गई थी. उसने गांव के कुछ लड़कों के साथ मजाक किया.

कानपुर में कमरे में 3 दिन तक मां-बाप का सड़ता रहा शव, बेटे-बहू ने नहीं ली सुध

जिसके बाद दबंग लड़कों ने लड़की को खींचना शुरू कर दिया. मौके पर पहुंचकर लड़की के भाई ने उसे बचाने की कोशिश की तो उसके साथ मारपीट कर दी. बाद में लड़के उसके घर आए और भाई को बुलाने को कहा. पिता उस समय गांव में थे. लड़की ने पिता और भाई को फोन करके बुलाया. दबंगों ने भाई को मारना शुरू कर दिया. जिसके बाद पिता आए और उन्होंने अपने बेटे को बचाने की कोशिश की.

हैलट के कोविड अस्पताल में शव को कंधा देने और मुँह दिखाई के लिए कर्मचारी कर रहे अवैध वसूली

जिसके बाद बदमाशों ने पिता को मारना शुरू कर दिया. इस मारपीट में पिता गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. परिजन पिता को आनन-फानन में हैलट अस्पताल ले गए. जहां आईसीयू में उनका इलाज चल रहा है. वहीं पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है. परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने सिर्फ केस दर्ज किया है, कार्रवाई नहीं की है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें