कानपुर मेट्रो परियोजना: यूपीएमआरसी ने बिछाया एक किलोमीटर तक का एलीवेटेड ट्रैक

Smart News Team, Last updated: 17/09/2020 10:25 AM IST
  • यूपीएमआरसी ने कानपुर मेट्रो परियोजना में तेजी दिखाई है. पिछले 36 दिनों में एक किलोमीटर तक एलीवेटेड ट्रैक का आधार बिछा दिया गया है.
आईआईटी से मोती झील के बीच एक किलोमीटर तक बिछा एलीवेटेड ट्रैक.

कानपुर. कानपुर में मेट्रो रेल परियोजना के निर्माण कार्यों ने अब रफ्तार पकड़ ली है. जानकारी के अनुसार पिछले 36 दिनों में तेजी से एक किलोमीटर तक एलीवेटेड ट्रैक का आधार बिछा दिया गया है. पहले चरण में 638 यू-गर्डर रखे जाने थे. अभी तक 50 यू-गर्डर एलीवेटेड ट्रैक पर डाले जा चुके है. एलीवेटेड ट्रैक के नीचे तक दूरी से बैरिकेडिंग को हटा लिय गया है.

यूपीएमआरसी को मेट्रो रेल परियोजना के पहले चरण में आईआईटी कानपुर से मोती झील के बीच 9 किलोमीटर का एलीवेटेड कॉरीडोर बनाना था. जानकारी के अनुसार पहला यू-गर्डर अगस्त महीने में रखा गया था. उस दौरान मुख्य सचिव भी मौजूद थे.

कानपुर की सभी 590 ग्राम पंचायतों में होंगे चुनाव, DPRO बोले- अभी परसीमन नहीं

बता दें कि एलीवेटेड ट्रैक पर गर्डर लगाने से पहले उसे कॉस्टिंग यार्ड में गर्डर तैयार किया जाता है. जानकारी के अनुसार इन दिनों अधिकांश गर्डर बनकर तैयार हैं. इन गर्डर को रात में ही रखा जाता है. क्योंकि,यही समय गर्डर को रखने के लिए उपयुक्त बताया जाता है. इन गर्डर को क्रेन की मदद से एलीवेटेड ट्रेक पर रखा जाता है.

कानपुर के बिकरू और भीटी गांव में नए प्रधान, विकास दुबे के करीबियों की हुई छुट्टी

यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने तेजी से चल रहे निर्माण कार्यों खुशी जाहिर की. कुमार केशव ने बताया कि यू-गर्डर किसी भी मेट्रो कॉरीडोर का अहम हिस्सा होता हैं. हमें पूरा भरोसा है कि इस कॉरीडोर का पूरा काम जल्द ही कर लेंगे. कुमार केशव के मुताबिक, कास्टिंग यार्ड में 134 यू-गर्डर बन चुके हैं. इसको लेकर दिन-रात में काम चल रहा है, ताकि निर्धारित समय से पहले लक्ष्य को पूरा किया जा सकें. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें