UPCA की एजीएम आज, अध्यक्ष व कोच पर नहीं होगा फैसला, बनेगी ये रणनीति

Smart News Team, Last updated: Sat, 26th Sep 2020, 10:33 AM IST
  • उत्तर पदेश क्रिकेट एसोसिएशन की एजीएम का आयोजन आज वेबिनार के माध्यम से किया जाएगा. आज होने वाली इस एजीएम में यूपीसीएम के सचिव, निदेशक सहित कई प्रमुख पदों पर नये नामों की घोषणा की जाएगी. हालांकि अध्यक्ष और सीनियर टीम के कोच पर फैसला एजीएम के बाद किया जाएगा. 
UPCA की एजीएम आज, ग्रीनपार्क और इकाना स्टेडियम में मैच कराने पर बनेगी रणनीति

कानपुर: उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन यानी यूपीसीए को लेकर बड़ी खबर सामने आई है. दरअसल खबर है UPCA की एजीएम का आयोजन शनिवार यानी 26 सितंबर 2020 को वेबिनार के माध्यम से किया जाएगा. उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन की आज होने वाली इस एजीएम में डायरेक्टर मंडल सुशीला सिंहानिया को आधिकारिक रूप से संरक्षक बनाने की घोषणा होगा. इसके साथ ही यूपीसीए के सचिव, निदेश सहित कई प्रमुख पदों पर नए नामों की घोषणा की जाएगी.

उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के निदेशक प्रेम मनोहर गुप्ता ने बताया कि स्वर्गीय यदुपति सिंहानिया व निदेशक शोएब अहमद को एजीएम में श्रद्धांजलि दी जाएगी. इस पर UPCA की तरफ से कुछ नए लोगों को भी जिम्मेदारी देने की घोषणा की जाएगी. साथ ही पिछले कार्यकाल के कामकाज का सारा ब्योरा भी देखा जाएगा. इसके साथ ही उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन की एजीएम में कानपुर के ग्रीनपार्क और लखनऊ के इकाना स्टेडियम में मैच करवाने पर भी रणनीति बनायी जाएगी. ऐसा इसलिए होगा क्योंकि अगले वर्ष आईसीससी टी20 विश्व कप का आयोजन भारत में होना है. ऐसे में 2 मैच यूपीसीए ने भी आयोजन कराने के लिए मांगे हैं.

पूर्व दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री पर पड़ोसी युवक ने घर में घुसकर किया हमला, अरेस्ट

बता दें कि आज होने वाली यूपीसीएम की एजीएम में अध्यक्ष का चुनाव फिलहाल नहीं किया जाएगा. एजीएम के बाद अध्यक्ष का चुनाव होगा. सबसे पहले यूपीसीए की तरफ से एक नोटिस जारी होगा जिसमें पूछा जाएगा कि कौन अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ना चाहता है. इसके बाद ही चुनाव किया जाएगा. साथ ही आज होने वाली एजीएम में उत्तर प्रदेश सीनियर क्रिकेट टीम के कोच का भी चयन या नाम की घोषणा नहीं की जाएगी. एजीएम के संपन्न हो जाने के बाद सीनियर टीम के चोर और यूपीसीए के अध्यक्ष के नाम पर फैसला किया जाएगा.

कानपुर: मास्क नहीं पहनने की मिली सजा, सैंकड़ों लोगों के कटे चालान

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें