कानपुर: 3 दोस्तों के साथ आया घर में चोरी करने, नींद आई तो AC चलाकर सो गया फिर सुबह...

Somya Sri, Last updated: Thu, 16th Sep 2021, 12:02 PM IST
  • कानपुर जिले के बर्रा के एक घर से चोरी का मामला सामने आया है. चोरो ने 3 लाख नकदी और खानदानी जेवरात चोरी कर लिए. लेकिन, हास्य पद स्थिति तब बन गई जब घर में आए चोरों में से एक को नींद आई और वह घर में ही एसी (A. C) चलाकर बिस्तर पर आराम से सो गया.
कानपुर: 3 दोस्तों के साथ आया घर में चोरी करने, नींद आई तो AC चलाकर सो गया फिर सुबह...(प्रतिकात्मक फोटो)

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के बर्रा के एक घर से चोरी का मामला सामने आया है. चोरो ने 3 लाख नकदी और खानदानी जेवरात चोरी कर लिए. लेकिन, हास्य पद स्थिति तब बन गई जब घर में आए चोरों में से एक को नींद आई और वह घर में ही एसी (A. C) चलाकर बिस्तर पर आराम से सो गया. सुबह जब घर वालों की नींद खुली और उन्होंने देखा कि आसपास के सभी सामान इधर-उधर हैं और उनके घर से चोरी हुई है तब वह बौखला गए. लेकिन जब उन्होंने देखा कि एक कमरे में 1 चोर आराम से एसी चलाकर सोया हुआ है तो उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी.

मिली जानकारी के मुताबिक कानपुर जिले के बर्रा के रहने वाले पवन गुप्ता नाम के एक व्यक्ति के घर में चोरी की वारदात हुई है. बताया जा रहा है कि पवन का तीसरी मंजिल पर था. पवन के घर में सिर्फ चार लोग रहते थे. चोरों ने इसका फायदा उठाकर चोरी की घटना को अंजाम दिया है. पवन ने कहा कि जब वह सुबह उठे हैं और देखा कि आसपास के सभी सामान इधर-उधर है तो पता करने लगे कि कौन-कौन सामान चोरी हुए हैं तब उन्होंने देखा कि एक शख्स आराम से कमरे में सो रहा है उन्होंने देखा कि एक शख्स कमरे का एसी चलाकर आराम से बिस्तर पर सो रहा है. यह देखकर उन्होंने सबसे पहले कमरे का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया और फिर पुलिस को इस बात की सूचना दी. सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शख्स को गिरफ्तार कर लिया.

कानपुर की धागा कंपनी को नाइजीरियन ठग ने लगाया 2.5 करोड़ का चूना

जानकारी के मुताबिक पवन के घर से करीब 3 लाख नकदी और खानदानी जेवरात चोरी हो गए हैं. फिलहाल पुलिस पकड़े गए चोर से उसके बाकी तीन चोर दोस्तों के बारे में पूछताछ कर रही है. पुलिस के मुताबिक पकड़ा गया चोर का नाम दीपक दुबे है. जो कई बार चोरी के आरोप में जेल जा चुका है. फिलहाल पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी है और चोरों की निशानदेही पर लगातार छापेमारी कर रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें