कानपुर असिस्टेंट, CT कमिश्नर, पुलिस से मारपीट कर सुपाड़ी लदा ट्रक ले भागे GST चोर

Smart News Team, Last updated: Mon, 23rd Aug 2021, 6:24 PM IST
  • जीएसटी चोरी की सूचना पर कानपुर- प्रयागराज हाईवे पर असिस्टेंट कमिश्नर और सिपाहियों की टीम ने सुपारी लदे ट्रक की चेकिंग कर उसे कब्जे में ले रही थी. लेकिन, कार सवार आधा दर्जन लोगों ने आधी रात को जमकर बवाल काटा. उन्होंने असिस्टेंट कमिश्नर और सिपाहियों के साथ मारपीट की और फिर वहां से ट्रक लेकर फरार हो गए.
असिस्टेंट कमिश्नर प्रदीप सिंह भुवनेश्वर तहरीर देने के लिए थाने पहुंचे

कानपुर: उत्तर प्रदेश के फतेहपुर में रविवार की रात कानपुर के असिस्टेंट कमिश्नर और दो सिपाहियों के साथ मारपीट का मामला सामने आया है. जीएसटी चोरी की सूचना पर कानपुर- प्रयागराज हाईवे पर असिस्टेंट कमिश्नर प्रदीप सिंह भुनेश्वर और सिपाहियों की टीम ने सुपारी लदे ट्रक की चेकिंग कर उसे कब्जे में ले रही थी. लेकिन, कार सवार आधा दर्जन लोगों ने आधी रात को जमकर बवाल काटा. उन्होंने असिस्टेंट कमिश्नर और सिपाहियों के साथ मारपीट की और फिर वहां से ट्रक लेकर फरार हो गए. इस वारदात के बाद प्रदीप सिंह भुनेश्वर तहरीर देने के लिए थाने पहुंचे हैं. एसपी राजेश कुमार सिंह के अनुसार आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीमों को कानपुर रवाना किया गया है.

दरअसल, कॉमर्स टैक्स डिपार्टमेंट कानपुर में तैनात असिस्टेंट कमिश्नर प्रदीप सिंह भुनेश्वर को सूचना मिली थी कि नागपुर से एक ट्रक सुपारी लेकर कानपुर आ रही है. इसी ट्रक को पकड़ने के लिए वह कानपुर-प्रयागराज हाईवे पर तैनात थे. हालांकि असिस्टेंट कमिश्नर का लोकेशन लीक हो जाने की वजह से ट्रक चालक ने अपना रास्ता बदल लिया. ट्रक चालक ने कल्याणपुर थाना क्षेत्र के पास एक ढाबे में ट्रक लाकर खड़ा कर दिया. जिसके कुछ ही देर बाद पुलिस भी वहां पहुंच गई और ट्रक चालक की ओर से कागजात नहीं दिखाने पर सुपारी से लदे ट्रक को कब्जे में ले लिया. असिस्टेंट कमिश्नर के आदेश पर सिपाही शिवाकांत तिवारी और सिपाही छत्रपाल ट्रक में बैठ गए और चालक को कानपुर चलने को कहा.

कानपुर: घरेलू विवाद में पत्नी की गला घोंटकर हत्या, फिर पति ने खुद लगा ली फांसी

मिली जानकारी के मुताबिक ट्रक चालक ने चालाकी से मुरादीपुर चौराहे के पास अचानक ट्रक को बिंदकी की ओर मोड़ दिया. जहां दो कारों में सवार आधा दर्जन से ज्यादा लोगो ने ओवरटेक कर अपनी कार को ट्रक के सामने लगाकर रोक लिया. जिसके बाद उन्होंने जमकर बवाल किया. उन्होंने सबसे पहले ट्रक में मौजूद दोनों सिपाहियों को नीचे उतारा. हालांकि, तब पीछे से असिस्टेंट कमिश्नर भी पहुंच गए. आधा दर्जन से ज्यादा लोग जबरन ट्रक को ले जाने का प्रयास करने लगे. विरोध करने पर उन्होंने असिस्टेंट कमिश्नर सहित दोनों सिपाहियों के साथ मारपीट की और उन्हें कार चढ़ाकर जान से मारने की धमकी देते हुए जबरन ट्रक छीन कर ले गए.

इस मामले पर संज्ञान लेते हुए असिस्टेंट कमिश्नर प्रदीप सिंह भुनेश्वर कल्याणपुर थाने में तहरीर देने के लिए पहुंचे. सूत्रों की मानें तो मुकदमा दर्ज करने के लिए तीन बार तहरीर बदली गई है. आरोपियों को नामजद किए जाने और संख्या को लेकर तहरीर लिखी गई और फिर फाड़ी गई. हालांकि पुलिस के मुताबिक अब नई तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है. साथ ही टीमों को आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कानपुर रवाना किया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें