तीन साल में बनेगा अयोध्या राम मंदिर, निर्माण में सभी धर्म करेंगे सहयोग: चंपत राय

Smart News Team, Last updated: Sun, 3rd Jan 2021, 5:59 PM IST
  • विश्व हिन्दू परिषद के उपाध्यक्ष एवं श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के महामंत्री चंपत राय ने प्रेस वार्ता करते हुए बताया कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए देश भर करीब 50 से 60 करोड़ आम जन से सम्पर्क करेंगे. साथ ही इस दौरान राम जनमभूलि पर मंदिर बनाने के लिए सहयोग राशि भी एकत्रित करेंगे.
3 साल में बनकर तैयार होगा अयोध्या का राम मंदिर

कानपुर. विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय उपाध्यक्ष एवं श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के महामंत्री चंपत राय ने रविवार को प्रेस वार्ता किया. इस प्रेस वार्ता में उन्होंने ने बताया कि अयोध्या में राम मंदिर के शुरुआत होने के 36 या 39 महीने के अंदर मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा. वहीं उन्होंने ने बताया कि मंदिर के नींव की जमीन का आकलन आईआईटी दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और इसरो सहित देश के 10 नामी संस्थानों ने किया है. वहीं इस मंदिर पर बड़े से बड़े भूकंप का असर न पड़े और इसकी मजबूती सौ सालों तक बनी रहे इसका पूरी तरह से ध्यान में रखकर बनाया जाएगा.

चंपत राय ने आगे बताया कि राम मंदिर निर्माण के लिए हम किसी तरह का डोनेशन नहीं लेंगे बल्कि हम सहयोग राशि कि मांग कर रहे है. वहीं उन्होंने ने कहा कि लोग अपने शान-शौकत, शादी-सालगिरह पर खर्च होने वाली राशि को में कटौती करके मंदिर के निरमन में अपना सहयोग दे. साथ ही उन्होंने ने कहा कि वहकानपूर प्रान्त के 21 जिलों के 50 लाख परिवारों को मंदिर निर्माण में जोड़ना उनका लक्ष्य है.

बेटियों के लिए मुस्लिम पसर्नल लॉ बोर्ड आया आगे, कहा-मेहर की रकम महिलाओं का हक

इस प्रेस वार्ता में चम्पत राय ने बताया कि राममंदिर निर्माण के लिए सयोग राशि लेने के लिए विपिह कार्यकर्त्ता हिन्दू, मुस्लिम, सिक्ख, ईसाई सभी के दरवाजे खटखटाएंगे. साथ ही राजनितिक दलों के नेताओं के घरों में जाकर मंदिर निर्माण के लिए सहयोग राशि जुटाने का कार्य करेंगे. राम मंदिर निर्माण के लिए सहयोग राशि इक्कठा करने कि शुरुआत 14 जनवरी से 21 फरवरी तक महाभियान चलाकर पूरा किया जाएगा. वही पुरे देश में 55 से 60 करोड़ आबादी से जुड़ने का लक्ष्य रखा गया है.

लखनऊ: कमिश्नर, डीएम को योगी का आदेश, कहा- फील्ड में लोगों की दिक्कतें दूर करें

पति ने होटल में रेड मारकर आशिक संग रंगरेलियां मनाती बीवी को रंगे हाथ पकड़ा

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें