कानपुर में जीका वायरस का प्रकोप, 30 नए मरीजों की पुष्टि

Uttam Kumar, Last updated: Fri, 5th Nov 2021, 12:16 PM IST
  • कानपुर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नेपाल सिंह के अनुसार उत्तर प्रदेश, कानपुर में गुरुवार को जीका के 30 नए मरीजों की पुष्टि हुई है. इसके साथ ही, शहर में जीका वायरस से संक्रमितों की कुल आंकड़ा 66 पहुंच गया है. 
कानपुर में जीका के 30 नए मरीजों की पुष्टि. 

कानपुर. उत्तर प्रदेश, कानपुर में गुरुवार 5 नवंबर 2021 को जीका के 30 नए मरीजों की पुष्टि हुई है. इसके साथ ही, शहर में जीका वायरस से संक्रमितों की कुल आंकड़ा 66 पहुंच गया है. कानपुर में जीका संक्रमण के पहला  मामला 23 अक्तूबर 2021 को मिलने के बाद गुरुवार को एक दिन में सर्वाधिक 30 नए संक्रमितों मरीजो की पुष्टि हुई है.  

कानपुर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नेपाल सिंह के अनुसार नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर वायरोलॉजी पुण(national institute of virology, Pune) ने 30 नए मामलों की पुष्टि की है. सभी के सैंपल जांच के लिए तीन दिन पहले भेजे गए थे. गुरुवार को 30 नए मरीजों की संक्रमित होने की पुष्टि से जिले में जीका वायरस के कुल मामले बढ़कर 66 हो गए हैं. जिसमें 45 पुरुष और 21 महिलाएं शामिल है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार  जीका एक मच्छर जनित वायरस है जो एडीज एजिप्टी(Adies Apties) नामक मच्छर की एक संक्रमित एडीज प्रजाति के काटने से फैलता है. एडीज मच्छर आमतौर पर दिन में काटते हैं. इनके काटने की सबसे ज्यादा संभावना सुबह से देर शाम तक ज्यादा होती है.  

कानपुर में जीका वायरस की दस्तक से लखनऊ में भी स्वास्थ्य विभाग अलर्ट, जानें जीका वायरस के लक्षण

यूपी में 23 अक्टूबर को जीका वायरस का पहला मामला कानपुर में भारतीय वायु सेना स्टेशन क्षेत्र में पाया गया था. एक अधिकारी संक्रमित पाए गए थे. इसके बाद भारतीय वायुसेना के थाना क्षेत्र में तीन और मामले की पुष्टि हुई थी. जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने जीका वायरस के संक्रमण रोकने के लिए भारतीय वायुसेना स्टेशन के दो किलोमीटर क्षेत्र को चिह्नित कर पाबंदी लगा दी थी. लेकिन लाल कुर्ती, मंगला विहार, तिवारीपुर, ओमपुरवा, जगईपुरवा, श्याम नगर इलाकों में अब नए मरीज मिले है, जो छावनी क्षेत्र में हैं लेकिन मुख्य कानपुर शहर की सीमा में आ जाता है. 

गुरुवार को पुष्टि किए गए 30 मामले भवानीपुर और कोयला नगर जैसे नए इलाकों से सामने आए हैं, जो स्वास्थ्य विभाग द्वारा भारतीय वायुसेना स्टेशन के पास चिह्नित किए गए दो किलोमीटर के दायरे से बाहर हैं. इसका मतलब जीका का संक्रमण पूरे शहर में फैल चुका है. कानपुर डीएम विशाख जी अय्यर ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ दोनों इलाकों का दौरा किया. साथ ही जानकारी दी कि मामले की निगरानी के लिए सात टीम तैनात है. वह लगातार चिह्नित क्षत्रों के अंतर्गत आने वाले घरों का सर्वेक्षण कर रही है, निगरानी टीम ने गुरुवार को 350 घरों का सर्वेक्षण किया है. 

Zika Virus in UP: कानपुर में जीका वायरस के 6 और नए मामले, चकेरी इलाके में 645 संदिग्ध

सोमवार को कानपुर में 11 मामले सामने थे. जिसके बाद उत्तर प्रदेश स्वास्थ्य विभाग ने जानकारी दी थी कि ज़िका वायरस से संक्रमण के मामलों की शुरुआती अवस्था में पहचान करने के लिए संक्रामक रोग नियंत्रण अभियान के तहत जिलों में अलर्ट जारी किया है. साथ ही, निगरानी भी तेज कर दी गई है. मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों के साथ जीका के बढ़ते मामलों को लेकर बैठक भी किया था. जहां उन्होंने उन्हें डेंगू और जीका संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कोरोना माहमारी की तरह "ट्रेस, टेस्ट, ट्रीट" फॉर्मूला लागू करने का निर्देश दिया. उत्तर प्रदेश के कानपुर में जीका के अब तक के दूसरे सबसे अधिक मामले हैं. देश भर में जीका के सबसे ज्यादा 90 केस केरल में है. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें