अलर्ट! कानपुर में डेंगू के साथ जीका वायरस का कहर, 25 संक्रमित मिले

Uttam Kumar, Last updated: Wed, 3rd Nov 2021, 1:49 PM IST
  • प्रदेश में डेंगू के साथ – साथ जीका वायरस ने भी पांव पसारने शुरू कर दिए हैं. कानपुर में कल तक  तक जीका के 11 मरीज थे, आज यह आंकड़ा बढ़कर 25 हो गया है. जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कानपुर का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया. 
कानपुर में अब तक जीका के 25 मरीज मिले हैं.

कानपुर. प्रदेश में डेंगू के हालात नियंत्रित होने से पहले जीका वायरस ने पांव पसारने शुरू कर दिए हैं. कानपुर में कल तक जीका के 11 मरीज थे आज यह आंकड़ा बढ़कर 25 पहुंच गया है. कानपुर सिएमओ(Kanpur CMO) डॉ नेपाल सिंह के अनुसार ने हर रोज़ जीका वायरस के 300-400 सैंपल की टेस्टिंग हो रही है. जांच के लिए टीमें रवाना कर दी गई हैं. किसी को डरने की ज़रुरत नहीं है. जीका वायरस से अब तक 2 गर्भवती माताएं संक्रमित पाई गईं है. जीका के मामले बढ़ने के बाद सरकार ने प्रदेश में मरीजों और उनके संपर्क में आएं लोगों की सर्विलांस तेज कर दिया है. ताकि इसके प्रसार को रोक जा सके. 

मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम कानपुर पहुंचकर सैंपल इकट्ठा करने के साथ ही इससे निपटने के लिए सरकार की तैयारियों का जायजा लिया. कानपुर से मच्छरों के साथ- साथ जीका से प्रभावित लोगों के संपर्क में आने वालों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं. गौरतलब है कि प्रदेश में इस वर्ष डेंगू पीड़ितों के सबसे अधिक मामले सामने आए हैं. डेंगू से प्रभावित होने वाले की संख्या की बात करें तो पिछले कई सालों के रिकार्ड टूट चुके हैं. 

दिवाली से पहले यूपी में फूटा प्रदूषण का पटाखा, देश के सबसे 5 प्रदूषित सिटी में 3 शहर

प्रदेशभर में अभी तक डेंगू के 20 हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. अभी भी स्तिथि नियंत्रित नहीं है. डेंगू के मामले में प्रतिदिन इजाफा हो रहा है. हालांकि  राहत की बात यह है कि सरकारी आकड़ों के अनुसार प्रदेश में डेंगू से सिर्फ आठ मौतें हुई है. डेंगू के सर्वाधिक केस फिरोजबाद में मिले हैं. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें