ब्लैकमेलिंग से परेशान बीटेक के छात्र ने की आत्महत्या, FB पर शेयर किया सुसाइड नोट

Smart News Team, Last updated: Tue, 15th Dec 2020, 5:23 PM IST
  • कानपुर में ब्लैकमेलिंग से परेशान होकर एक बीटेक छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. सुसाइड से पहले युवक ने फेसबुक पर अपना सुसाइड नोट शेयर किया. जिसमे उसने परेशान करने वालो के नाम और मोबाइल नम्बर भी लिखा था.
ब्लैकमेलिंग से तंग आकर बीटेक छात्र ने की आत्महत्या, परेशान करने वालों के नाम लिख FB पर शेयर किया सुसाइड नोट

कानपुर. कानपुर में ब्लैकमेलिंग से परेशान होकर एक बीटेक के छात्र ने मंगलवार को फांसी लगाकर अपनी जान दे दी, लेकिन मरने से पहले छात्र ने फेसबुक पर अपना सुसाइड नोट शेयर किया. जिसमे उसने उन सभी के नाम और मोबाइल नम्बर लिखे हुए थे जो उसे ब्लैकमेल कर रहे थे. जब छात्र के मौत की खबर उसके परिजनों को हुई तो घर में कोहराम मच गया.

पुलिस को जब युवक के मौत की सुचना मिली तो वह मौके पहुंच कर शव को अपने कब्जे में ले लिया और उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पुलिस युवक के सुसाइड नोट के आधार पर आरोपियों की तलाश कर रही है. मृतक का नाम सत्यम अवस्थी बताया जा रहा है. वह उन्नाव के हसनगंज का निवासी था. वह कानपुर के पनकी स्थित एक इनिजियरिंग कॉलेज में बीटेक अंतिम वर्ष की पढाई कर रहा था.

35 साल पुराने रेप केस में फिर सुनवाई शुरू, अब ना आरोपी और ना पीड़िता जिंदा

वहीं मृतक युवक के परिजनों ने बताया कि सत्यम को काफी समय से उसकी महिला मित्र अमिता अग्निहोत्री और उसके दोस्त शुभम कुशवाहा, आकाश तिवारी, नितिन मिश्रा उसे ब्लैकमेल कर रहे थे. उन लोगो ने सत्यम से अभी तक करीब दो लाख रुपए ले लिया था. उसके बावजूद भी वह उसे पैसे के लिए ब्लैकमेल कर रहे थे. जिसको लेकर वह काफी परेशान रहता था.

दिव्यांग बच्ची का नहीं देखा गया मां से दर्द, हत्या कर खुद की आत्महत्या

उन्होंने आगे बताया कि सत्यम ने सुसाइड से पहले फेसबुक पर अपना सुसाइड नोट पोस्ट किया. जिसमे उसने उन सभी के नाम सहित मोबाइल नम्बर भी लिखे थे जो उसे ब्लैकमेल कर रहे थे. उसके बाद उसने अपने कमरे में फांसी लगाकर अपनी जान दे दी. जब घर का एक सदस्य उसे बुलाने गया तो उसे फंदे से लटकता हुआ देख दरवाजा तोड़कर उसे फंदे से निचे उतरा.

कोरोना टीकाकरण की पर्ची घर पर पहुंचेगी,कब-कहां और कैसे मिलेगी वैक्सीन, जानें

जिसके बाद उसे आनन-फानन में पास के अस्पताल में ले जाया गया. जहाँ पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. जब आत्महत्या की सुचना पुलिस को हुई तो मौके पर पहुंची और युवक के शव को अपने कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. साथ ही मामले की जांच पड़ताल करने के लिए मृतक युवक का सुसाइड नोट और उसका मोबाइल फ़ोन अपने साथ लेकर गई.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें