शहर सीमा क्षेत्र का होगा विस्तार शासन को भेजी गई अनुमोदन की फाइल

Smart News Team, Last updated: 24/10/2020 01:32 PM IST
  • उन्नाव शुक्लागंज विकास प्राधिकरण की योजना के तहत सब कुछ ठीक रहा तो जल्द ही उन्नाव शहर का सीमा क्षेत्र बढ़ेगा. शहरी क्षेत्र में जोड़ने के लिए प्राधिकरण की ओर से 55 गांव की सूची अनुमोदन के लिए शासन को भेजी गई है.
उन्नाव शुक्लागंज विकास प्राधिकरण की योजना के तहत जल्द ही उन्नाव शहर का सीमा क्षेत्र बढ़ेगा

कानपुर. शहरी सीमा क्षेत्र विस्तार योजना के तहत उन्नाव शुक्लागंज विकास प्राधिकरण ने जो 55 गांव चयनित किए हैं उन्हें सदर तहसील क्षेत्र के 40 सफीपुर तहसील क्षेत्र के 15 तथा हसनगंज तहसील क्षेत्र के 5 गांव चिन्हित किए गए हैं. इन गांवों में रिमोट सेंसिंग एप्लीकेशन नामक सर्वे एजेंसी को सैटेलाइट संबंधित गांव का खसरा, क्षेत्रफल, आकार, तालाबों नहरों की स्थिति, कृषि भूमि के अलावा आबादी वाले क्षेत्र को चिन्हित करने का कार्य सौंपा गया है.

 इस कार्य के लिए प्राधिकरण की ओर से सर्वे एजेंसी को 6 माह का समय दिया गया है. सर्वे एजेंसी की ओर से भौगोलिक परिस्थितियों के आधार पर रिपोर्ट पेश की जाएगी. बांस के शासन से अनुमोदन के बाद चयनित गांव का शहरी कृत करने का कार्य शुरू करा दिया जाएगा.

अल्पसंख्यक स्कीम में 59 करोड़ का घोटाला! FIR दर्ज होने से मचा हड़कंप

इस संबंध में उन्नाव शुक्लागंज विकास प्राधिकरण के वाइस चांसलर श्रीकांत मिश्र ने बताया कि शहरी क्षेत्र सीमा विस्तार के लिए सदर तहसील क्षेत्र के पतारी, राजेपुर, थाना अकबरपुर, दबौली, परियारा, भतावा, सिघुपुर, सुदेशा, बहादुरपुर मवैया, रामपुर खालसा, रूपऊ, सहजादपुर, दोस्ती नगर, सरोसी, सिहोरा, सुल्तानपुर ग्रंट, अमलोना, सुथरा, परमनी, फैजपुर, सदेश, बुलंदपुर, जगदीशपुर, एरा भादियार, नगवा कजौरा, दमगढ़ी, इसुनिया, बड़ा खेड़ा, टऊकरना, तालिब नगर, बालामऊ, पूरा निस्पासरी, सोन गढ़ी, पवई, चंदा, मुलुक गड़ार, मझखोरिया व से सिलोली गढ़ी गांव के नाम सूची में शामिल किए गए हैं.

बीसी श्री मिश्रा ने बताया कि इसी तरह सफीपुर तहसील क्षेत्र के ग्राम भदनी, फिरोजपुर कला, बरभौला, चकलवंशी, अटवा, उनवन, मैथी टिकुर, औेशरपुर, रुकनापुर, पावा व रायपुर गांवों को सूची में शामिल किया गया है. बताया कि इसी प्रकार हसनगंज तहसील क्षेत्र के मारवी, कोरारी कला, सलेमपुर, कोरारी खुर्द व रैना गढ़ी गामा को उन्नाव शहरी क्षेत्र में शामिल करने के लिए अनुमोदन की फाइल शासन को भेजी गई है. उन्होंने बताया कि शासन से संस्तुति मिलने के बाद उक्त गांव को शहरी क्षेत्र में शामिल करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें