नहीं मिला खाली बेड तो इलाज कराने पहुंचे दिल्ली

Smart News Team, Last updated: 05/08/2020 02:03 PM IST
  • कानपुर के अस्पतालों में बेड खाली नहीं होने से मजबूरन लोग दिल्ली की तरफ रुख कर रहे हैं
हॉस्पिटल में हो रही कोरोना बेड की कमी 

कानपुर।कानपुर में बढ़ रहे कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या से लोगों की परेशानी बढ़ती जा रही है। यह परेशानी स्वास्थ्य महकमे के साथ जनता में भी बनी हुई है। कानपुर के अस्पतालों में बेड खाली नहीं होने से मजबूरन लोग दिल्ली की तरफ रुख कर रहे हैं। संपन्न लोग खासकर डॉक्टर इलाज के लिए दिल्ली भागने लगे हैं। संक्रमण लगभग हर गली-मोहल्लों में फैल रहा है।

नीलवाली गली (फीलखाना के पास) के 10 लोग एक साथ तथा लालबंगला की न्यू सब्जी मंडी, गोमती भवन क्षेत्र के आठ लोग भी संक्रमित पाए गए हैं। लेवल थ्री के मरीजों का इलाज सिर्फ हैलट और रीजेंसी की गोविंद नगर शाखा में हो रहा है।

अस्पताल में बेड फुल होने के चलते अन्य मरीजों को जल्दी जगह नहीं मिल पा रही है। इससे लोग दिल्ली जाने लगे हैं। इनमें शहर के चार वरिष्ठ डॉक्टर भी शामिल हैं। इसके अलावा स्वरूप नगर के एक प्रॉपर्टी डीलर ने शनिवार रात पत्नी और बेटे की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर इलाज के लिए दिल्ली भेज दिया।

इसी तरह पार्वती बागला रोड के एक संक्रमित कारोबारी को लेने के लिए एंबुलेंस नहीं आई तो उनके पड़ोसी दूसरे संक्रमित कारोबारी दिल्ली शिफ्ट हो गए। कानपुर नर्सिंग होम एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. एमके सरावगी का कहना है कि मेडिकल स्टाफ को संक्रमण का अधिक खतरा है। कई डॉक्टर इलाज कराने के लिए दिल्ली जा चुके हैं।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |