Dhanteras 2021: धनतेरस पर खरीदे गए नए सामान की दिवाली के दिन ऐसे करें पूजा, होग

Pallawi Kumari, Last updated: Sun, 31st Oct 2021, 9:57 AM IST
  • दिवाली से पहले धनतेरस पर लोग जमकर खरीदारी करते हैं. क्योंकि खरीदारी के लिए धनतेरस का दिन शुभ माना जाता है और कहा जाता है कि इस दिन खरीदी गई वस्तु में 13 गुणा वृद्धि होती है. लेकिन इसका पूरा फल तभी मिलता है, जब आप धनतेरस के दिन खरीदी गई वस्तु की विधि पूर्वक पूजा करेंगे.
धनतेरस पर खरीदे गए बर्तन, आभूषण की पूजा विधि.

दिवाली से पहले धनतेरस मनाया जाता है. इस बार दिवाली 4 नवंबर और धनतेरस 2 नवंबर को है. धनतेरस के दिन लोग जमकर खरीदारी करते हैं. सभी अपने सामार्थ्य के अनुसार, बर्तन, इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम से लेकर सोने चांदी के आभूषण की खरीदारी करते हैं. कहा जाता है कि इस दिन खरीदी गई वस्तु में 13 गुणा में वृद्धि होती है. लेकिन धनतरेस पर खरीदी गई वस्तु के इस्तेमाल से पहले उसकी विधि पूर्वक पूजा करनी चाहिए, तभी उसका फल मिलता है. आइये आपको बताते हैं धनतरेस के दिन खरीदी जाने वाली शुभ वस्तुओं और उसकी पूजा विधि के बारे में.

धनतेरस के शुभ मौके पर लोग सोना, चांदी, कार, घर , बर्तन और झाड़ू आदि जैसी कई चीजों की खरीदारी करते हैं. इन चीजों को धनतरेस के दिन खरीदाना काफी शुभ माना जाता है. लेकिन इस दिन भूलकर भी लोहे का सामान, धारधार चीज, स्टील व कांच के बर्तन, प्लास्टिक की वस्तु और काले रंग की वस्तु नहीं खरीदनी चाहिए. इन सब वस्तुओं को नकारात्मकता का प्रतीक माना जाता है.

Diwali 2021: 4 नवंबर को इस समय से शुरू है शुभ मुहूर्त,जानें गणेश-लक्ष्मी की पूजन विधि

धनतेरस के दिन खरीदी गई वस्तु की ऐसे करें पूजा- धनतरेस के दिन आपने जो भी खरीदारी की है , उसे इस्तेमाल करने के पहले दिवाली के दिन उसकी पूजा जरूर करें. लक्ष्मी-गणेश और कुबेर भगवान की पूजा करते समय मंदिर में खरीदी गई वस्तु को रखें और उसकी भी पूजा करें. यदि खदीरी गई वस्तु बड़ी है और मंदिर में नहीं आ सकती तो तिलक करके फूल चढ़ाएं और दीप धूम जरूर दिखाएं. वहीं धनतरेस के दिन खरीदी गई झाड़ू से दिवाली के दिन मंदिर की सफाई जरूर करें.  अगर आपने धनतरेस के दिन आभूषण खरीदैं हैं तो दिवाली के दिन पूजा स्थल पर उसे भगवान के चरण के पास चढ़ाएं.

Dhanteras 2021: यम को खुश करने और अकाल मृत्यु से बचने के लिए धनतेरस पर जलाएं ये खास दीप, जानें विधि

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें