कानपुर सीरो सर्वे: 44 स्थानों से 1408 ही सैंपल लिए गए, टारगेट से एक इलाका छूटा

Smart News Team, Last updated: 09/09/2020 07:40 AM IST
  • कानपुर शहर में सीरो सर्वे के दौरान 44 स्थानों से 1408 ही सैंपल लिए जा सकें. एक डॉक्टर की लापरवाही से सीरो सर्वे की पूरी प्लानिंग पर असर पड़ा. डॉक्टर की लापरवाही से टारगेट का एक इलाका छूट गया. 
कानपुर में सीरो सर्वे के दौरान 44 स्थानों से 1408 ही सैंपल लिए जा सकें.

कानपुर. कानपुर शहर में कोरोना संक्रमण की स्थिति को जानने के लिए इन दिनों सीरो सर्वे करवाया जा रहा है. बताया जा रहा है कि बीते दिन एक डॉक्टर की लापरवाही से सीरो सर्वे की पूरी प्लानिंग पर असर पड़ा.

 प्लानिंग के अनुसार बीते दिन कानपुर के कुल 45 जगहों से सैम्पल लेना तय किया था.  लेकिन, कुल 44 जगहों से ही सैम्पल लिए जा सकें. सीरो सर्वे करने वाली टीम ने कुल 44 जगहों से 1408 सैम्पल कलेक्ट किए. बताया जा रहा है कि उस दौरान एक इलाका छूट गया. छूटे हुए इलाके में सीरो सर्वे करने के लिए अब लखनऊ से अनुमति की जरूरत पड़ेगी, ताकि उस इलाका में सीरो सर्वे हो सकें.

कानपुर: CSJMU में शुरू हुई फाइनल ईयर की परीक्षा, कोरोना नियमों को रखा गया ध्यान

नगर में सीरो सर्वे को लेकर नोडल अधिकारी डॉ.अविनाश यादव ने बताया कि घाटमपुर के बारा चांद, शिवराजपुर के वार्ड 11, निरानगर, देहली सुजानपुर, अनवरगंज, तिलकनगर, कौशलपुरी और सरोजनी नगर से  लोगों के सैम्पल लिए गए. 

कानपुर: कोरोना के बीच पांव पसार रहा डेंगू,11 साल की बच्ची की मौत, दो मरीज भर्ती

जानकारी के अनुसार वार्ड 18 उस्मानपुर में  डॉ. रोचना कुमार को सीरो सर्वे जिम्मेदारी दी गई थी. बताया जा रहा है कि उनका फोन सुबह ही ऑफ मोड में था. उनके टीम के लोगों ने उन्हें पूरा दिन खोजा फिर भी नहीं मिल सकी. इसके संबंध में सीएमओ को अवगत कराया गया. बताया जा रहा है कि  डॉ. रोचना कुमार की लापरवाही से टारगेट का एक इलाका छूटा गया.  इसके लिए अब लखनऊ से अनुमति की जरूरत पड़ेगी, ताकि उस इलाका में सीरो सर्वे हो सकें. मिली जानकारी के अनुसार कुल 1440 सैम्पल लेने थे,  जिसमें 1408 सैम्पल ही लिए जा सकें. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें