कानपुर: शुगर पेशेंट के लिए घातक साबित हो रहा कोरोना

Smart News Team, Last updated: 09/08/2020 12:59 PM IST
  • कानपुर.अभी तक हुए 257 मौतों में 123 संक्रमित पाए गए शुगर के मरीज. 56 सांस रोगी, 47 हाइपरटेंशन, 3 कैंसर व 11 को थी गुर्दे की बीमारी.
प्रतीकात्मक  तस्वीर

कानपुर। कानपुर में शुगर के मरीजों के लिए कोरोना महामारी घातक साबित हो रही है. कोरोना संक्रमण से हुए मौतों के मामलों में सबसे ज्यादा मरीज शुगर से ग्रसित थे.

कानपुर में अब तक हुई 257 मौतों में 103 मरीज ऐसे थे जो शुगर के पेशेंट थे. शुगर की बीमारी से जूझ रहे लोगों के लिए कोरोना जानलेवा साबित हो रहा है.

आँकड़ों की मानें तो शुगर के मरीजों को ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है. वहीं अब तक हुई मौतों में 56 रोगी ऐसे थे जिन्हें सांस की बीमारी थी जबकि 47 लोग हाइपरटेंशन के शिकार थे.

सांस संबंधी बीमारियों से जूझ रहे लोगों को भी बचाव करना बेहद जरूरी है. ऐसे लोगों को फिलहाल रोगों से लड़ने की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने की आवश्यकता है. औषधि के प्रयोग से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाई जा सकती है. साथ ही हाइपरटेंशन के मरीजों को अपना मानसिक संतुलन स्थिर रखना होगा. इससे कोरोना को मात देने में सहायता मिलेगी.

इन आंकड़ों में कैंसर के मरीज भी शामिल हैं. कानपुर के तीन कैंसर पीड़ित भी कोरोना वायरस की चपेट में आ गए जिससे उनकी मौत हो गई. वहीं 11 लोगों को गुर्दे की बीमारी थी जो कोरोना के शिकार बन गए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें