कानपुर: बिकरु कांड में संलिप्त तीन आईपीएस और 13 पुलिसकर्मियों की संपत्ति की जांच

Smart News Team, Last updated: 21/08/2020 04:02 PM IST
  • पुलिस कर्मियों के पास मकान, फ्लैट, जमीन और फार्महाउस भी मौजूद. ईडी ने इन सभी पुलिसकर्मियों से उनके संपत्ति का मांगा ब्यौरा.
प्रतीकात्मक तस्वीर 

कानपुर। कानपुर के बिकरु में हुए कांड में आए दिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं. दुर्दांत अपराधी विकास दुबे और उसके खजांची जय बाजपेई से जुड़े लोगों के संपत्ति की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय का चाबुक 13 पुलिसकर्मियों पर भी चलने वाला है.

दरअसल शिकायतकर्ता सौरभ भदौरिया ने दावा किया है कि उन्होंने बुधवार को लखनऊ में दिए गए अपने बयान में 3 आईपीएस अफसरों के नाम भी बताए हैं और दावा किया है कि ईडी ने उन अफसरों समेत सभी के संपत्ति की दस्तावेज मांगे हैं.

एसएसपी केसी गोस्वामी ने कन्नौज में तैनाती के दौरान सौरभ भदौरिया की शिकायत पर तत्कालीन आईजी आलोक कुमार के आदेश पर वर्ष 2018 में जांच की थी, जिसमें जय बाजपेई और उससे जुड़े कई पुलिसकर्मियों के बारे में गंभीर जानकारियां मिली थी. इसमें बजरिया, नजीराबाद एलआईयू और पुलिस के पासपोर्ट कार्यालय में काम करने वाले 13 पुलिसकर्मियों के नाम भी शामिल थे.

सौरभ ने दावा किया कि उनसे जय बाजपेई और विकास दुबे के साथियों सहित आईपीएस अफसरों और पुलिसकर्मियों की मिलीभगत को लेकर कई सवाल पूछे गए.

उनके पास सभी पुलिसकर्मियों के संपत्ति का पूरा ब्यौरा है. इन दस्तावेजों को उन्होंने उपलब्ध कराने का दावा भी किया है. इस पर ईडी ने दस्तावेज मांगे हैं.

सौरभ के मुताबिक इन पुलिसकर्मियों के पास अकूत संपत्ति है. सभी पुलिसकर्मियों के पास शानदार मकान, फ्लैट, कई जगहों पर जमीन और फार्महाउस भी बने हुए हैं. जय के पैसों से ही इन पुलिसकर्मियों ने यह संपत्ति बनाई हुई है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें