दिव्यांग बच्ची का नहीं देखा गया मां से दर्द, हत्या कर खुद की आत्महत्या

Smart News Team, Last updated: 12/12/2020 04:27 PM IST
  • कानपुर के बर्रा में जन्म से विकलांग बेटी के भविष्य की चिंता से परेशान होकर माँ ने शनिवार को पहले बेटी की हत्या की और खुद भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.
बर्रा में माँ ने विकलांग बेटी की हत्या करके खुद भी आत्महत्या कर जान दे दी

कानपूर. कानपूर की एक माँ ने अपने जन्म से ही विकलांग बेटी की हत्या कर खुद भी फांसी लगाकर अपनी जान दे दी. महिला अपनी विकलांग बेटी के भविष्य को लेकर हमेसा चिंता में रहा करती थी. दरअसल बच्ची जन्म से ही दोनों पैरो से विकलांग थी. जिसेक चलते उसे नित्य काम से लेकर अन्य कार्यों को करने में हमेशा किसी न किसी की सहायता लेनी पड़ती थी. जिसको लेकर उसकी माँ अक्सर उसके भविष्य को लेकर सोच में पड़ा रहती थी. आपको बता दे कि ये घटना कानपुर के बर्रा-4 के जनता नगर की है.

बर्रा-4 जनता नगर में विकास सिंह अपने परिवार के साथ रहते है. ये एक नामी टायर कंपनी में मैनेजर पद पर कार्यरत है. उनकी दो बेटिया है अनन्या और नन्हू, दोनों ही जन्म से ही विकलांग है. दोनों के इलाज में परिजन लाखो रुपए खर्च कर चुके है, लेकिन अभी तक कोई उपचार का लाभ नहीं मिला. जिसको लेकर विकास की पत्नी प्रिया अपने बेटियों की भविष्य को लेकर बेहद चिंतित और परेशान रहती थी. जिसके चलते शनिवार को माँ प्रिया ने बेटी अनन्या की हत्या करके खुद भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

योगी सरकार की बड़ी पहल, 20 लाख किसानों को फ्री में मिलेंगे सब्जियों के बीज

जब प्रिया का पति विकास कमरे में कोई सामान लेने गया तो कमरा अंदर से बंद था, जिसके बाद उसने काफी देर तक नहीं खोला तो उसने दरवाजा तोड़ दिया. उसके बाद विकास ने पत्नी और बेटी को फंदे से लटकता देख सन्न रह गया. उसके परिजनों ने दोनों को फांसी के फंदे से उतरा और आनन-फानन में अस्पताल ले गए जहाँ पर डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोसित कर दिया.

कभी भी अरेस्ट हो सकती हैं गैंगस्टर विकास दुबे की पत्नी रिचा, फर्जी सिम लेने का आरोप

जब इसकी सूचना पुलिस को हुई तो बर्रा थाने के इंस्पेक्टर हरमीत सिंह मौके पर पहुंचे और परिजनों से पूछताछ किया. पुलिस दोनों शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजने जा रही थी, लेकिन परिजनों ने काफी निवेदन किया. जिसके बाद पुलिस ने शवों का पंचनामा भरकर शव परिजनों को सौप दिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें