कानपुर में बदमाश के हौंसले बुलंद ,फोन कर दरोगा को धमकाया

Smart News Team, Last updated: 11/08/2020 09:54 AM IST
खुद को गृह विभाग मुख्य सचिव बता फोन पर कोहना थाने के दरोगा को धमकाया. तुमने रिश्वत ली, अब तुम्हारा तबादला किया जा रहे है, बचना है तो कल्याण कोष में 31 हजार रूपए जमा करवा दो वरना तीन महीने की तनख्वाह भी काट ली जाएगी. शक होते ही मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
UP Police (File Photo)

यूपी के कानपुर में कोहना दरोगा सतेंद्र कुमार ने मीडिया को बताया कि 26 जून को एक शख्स ने फोन कर खुद को अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी बताते हुए धमकी दी कि तुमने 60 हजार रुपये रिश्वत ली है, इसीलिए तुम्हारा तबादला गोरखपुर किया जा रहा है. अब तीन माह की तुम्हारी तनख्वाह भी कटेगी. इसके बाद बदमाशों ने एक खाता नंबर दिया और कहा कि 31 हजार रुपये कल्याण कोष में दान करोगे तो बच जाओगे.दरोगा को शक हुआ तो जानकारी थाना प्रभारी को दी.

इसके बाद उच्चाधिकारियों की सलाह पर अपर मुख्य सचिव के पीआरओ को जानकारी दे दी और लिखित शिकायत भी भेजी।शिकायत के बाद प्रकरण की जांच शुरू कराई गई। इसी बीच हरदोई के सुरसा थाने की सैमरा चौकी प्रभारी जावेद अख्तर के पास भी उसी शख्स ने फोन किया और रकम मांगी। उन्होंने भी शासन स्तर पर शिकायत की तो एसटीएफ को जांच दी गई.

कोहना थाना प्रभारी प्रभुकांत ने बताया कि धमकाने वाले युवक और उसके एक साथी को गिरफ्तार किया जा चुका है. उसने अपना नाम विवेक चौधरी और पता आगरा के बाह थाना क्षेत्र का गांव मधेपुरा बताया है। उसका एक साथी भी पकड़ा गया है। हरदोई में मुकदमा दर्ज कर दोनों को जेल भेज दिया गया. हरदोई के सीओ सिटी विजय कुमार राणा ने फोन पर बताया कि आरोपित पहले भी फोन पर धमकी देने और रकम वसूलने के मामले में मथुरा के बलदेव थाना क्षेत्र से गिरफ्तार हो चुका है, उस पर गैंगस्टर की कार्रवाई की जाएगी।

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें