कानपुर: बैंकों की हड़ताल से 1200 करोड़ रुपए का लेनदेन हुआ ठप

Smart News Team, Last updated: 27/11/2020 09:54 AM IST
  • केंद्रीय श्रम संगठनों के आह्वान पर 11 सरकारी और दो निजी बैंकों के अधिकारियों और कर्मचारियों ने सरकारी बैंकों में हड़ताल कर दी. दिन भर बैंकों में बंदी होने के कारण करीब 1200 करोड़ रुपए का कारोबार प्रभावित रहा. जिसमें 350 करोड़ की क्लियरिंग ठप हुई. इसके साथ-साथ 250 करोड़ का नकद जमा और 150 करोड़ का नकद भुगतान भी बंद रहा. वहीं 225 करोड़ रुपए की आरटीजीएस, 125 करोड़ के विदेशी विनिमय समेत 100 करोड़ का फुटकर कार्य भी प्रभावित हुआ. माल रोड और बड़े चौराहे समेत बैंक अधिकारियों ने सड़कों पर उतरकर हड़ताल की. 
  • कानपुर के चकेरी एयरपोर्ट से बहुत जल्द सूबे के दूसरे शहरों के लिए उड़ा हो सकेगी. फिलहाल मुरादाबाद, चित्रकूट और अलीगढ़ के लिए डीजीसीए ने अनुमति दे दी है. चकेरी एयरोपोर्ट से आने वाले समय में श्रीवस्ती के लिए भी विमान उड़ाए जा सकेंगे. दरअसल डीजीसीए को नए हवाई रूट का प्रस्ताव कुछ समय पहले दिया गया था. अब इस पर मुहर लग गई. एयरपोर्ट के निदेशक बीके झा ने बताया कि कानपुर मुरादाबाद, मुरादाबाद कानपुर, अलीगढ़ कानपुर अलीगढ़, कानपुर श्रीवस्ती कानपुर, कानपुर चित्रकूट कानपुर का रूट तय किया गया है. 
  • कोरोना काल से ठंड से कोरोना जैसे लक्ष्णों वाले मरीज आ रहे हैं. हैलेट और उर्सला ओपीडी के डॉक्टरों का कहना है कि कितने मरीजों की जांच कराई जाए और यदि इनमें से संक्रमित मरीज सामने आते हैं तो संक्रमण फैलने के सिवाय कोई उपाय नहीं है. हैलेट और उर्सला ओपीडी में रोजाना लगभग 250 से 300 सैंपल जांच के लिए भेजे जा रहे हैं. डॉक्टरों का कहना है कि कुछ मरीज एक्सरे के साथ आ रहे हैं, जिनमें कोरोना जैसा पैच मिल रहा है. दिनभर के कोरोना अपडेट में दो कोरोना मरीजों की मौत और 153 नए मरीज मिले हैं. कानपुर में मरने वालों की संख्या कुल 773 पहुंच गई है. 
  • कुली बाजार लोहा मंडी में सोमवार को बेसमेंट की खुदाई में तीन जर्जर इमारतों के ढहने के मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है. एक आरोपी को ज्यादा उम्र होने के चलते पूछताछ के बाद छोड़ दिया. सोमवार को बेसमेंट खुदाई के चलते तीन जर्जर इमारतें ढह गई थीं. जिसमें वृद्ध राकेश की मौत हो गई थी. मामले में केडीए के अभियंता ने तीन महिलाओं पर गैर इरादतन हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. जिसके चलते आज महिलाओं ने कुली बाजार में बिल्डिंग के सामने धरना प्रदर्शन भी किया.
  • प्रशासन की सख्ती कहें या कोरोना से डर सहालत के पहले दिन उमंग के साथ कोरोना से बचाव के इंतजाम सभी वैवाहिक स्थलों पर देखने को मिले. आपके अपने अखबार हिंदोस्तान की टीम ने शहर के पांच वैवाहिक स्थलों की पड़ताल की. सभी जगह सेनेटाइजर टेंपरेचर चैकिंग और मास्क की व्यवस्था थी. सभी जगह सामाजिक दूरी का विशेष ख्याल रखा गया. बड़ी संख्या में मेहमान बिना मास्क के पहुंचे जबकि दूल्हा और दुल्हन मास्क लगाए हुए थे.

सम्बंधित वीडियो गैलरी