UP में आठ महीनों में 26.62 लाख लोगों को मिला रोजगार

Smart News Team, Last updated: 16/12/2020 01:14 PM IST
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रयासों के चलते आठ महीनों में आत्मनिर्भर पैकेज के जरिये 6,65,740 नई इकाइयों में 26,62,960 लोगों को रोजगार मिला है.
(तस्वीर: सीएम योगी आदित्यनाथ)

लखनऊ: सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर अमल करते हुए आठ महीनों में आत्मनिर्भर पैकेज के जरिये 6,65,740 नई इकाइयों में 26,62,960 लोगों को रोजगार मुहैया कराया गया है. वहीं, सेवायोजन पोर्टल के जरिये भी 5,25,978 लोगों को रोजगार मिला और यह सब मुख्यमंत्री के अन्य राज्यों से आए श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराने के लगातार किए गए प्रयासों से संभव हो सका है.

लॉकडाउन होने पर जब लाखों गरीब-मजदूर बेरोजगार हो गए तो मुख्यमंत्री ने हर बैठक में बेरोजगार श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराने पर मंथन किया. उनके ऐसे प्रयासों से ही लाखों श्रमिकों को MSME सेक्टर में सर्वाधिक रोजगार मिला. बीते 8 महीनों में प्रदेश में 6,65,740 नई इकाइयां शुरू हुईं, जिसमें कुल 26,62,960 लोगों को रोजगार मिला है. इन आंकड़ों में 2,57,348 श्रमिक ऐसे हैं, जिन्हें पहले से चल रही इकाइयों में ही रोजगार मिल है.

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 11,568 (शहरी) आवासों के निर्माण को मिली मंजूरी

यहीं नहीं कोरोना काल के दौरान योगी सरकार ने आत्‍म निर्भर पैकेज के तहत 4,24,283 पुरानी इकाइयों को 1,092 करोड़ रुपये का लोन देकर जहां पुराने रोजगार बचाये रखा. वहीं, लोगों को रोजगार मुहैया कराने के लिए मुख्यमंत्री ने सेवायोजन पोर्टल भी शुरू कराया. इस पोर्टल से भी बीती 13 दिसंबर तक 5,25,978 लोगों को रोजगार मिला है. प्रदेश सरकार के लाखों गरीब-मजदूर और श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराने के प्रयास को रिजर्व बैंक ने भी सराहा है. आरबीआई के अनुसार एमएसएमई के माध्यम से रोजगार देने वाले राज्यों में उत्तर प्रदेश देश के टॉप 5 राज्यों में शामिल है.

लखनऊ: भ्रष्टाचार के आरोप में फरार यूपी कैडर के दो आईपीएस बने पुलिस के लिए मुसीबत

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें