झारखंड के बाद अब यूपी विधानसभा में नमाज तो बिहार में हनुमान चालीसा के लिए कमरे की मांग

Priya Gupta, Last updated: Wed, 8th Sep 2021, 11:24 AM IST
झारखंड विधानसभा में नमाज कक्ष अलौट होने के बाद अब यूपी विधानसभा और बिहार विधानसभा में भी ऐसी व्यवस्था की मांग उठने लगी है.
यूपी विधानसभा में नमाज तो बिहार में हनुमान चालीसा के लिए कमरे की मांग

लखनऊ: झारखंड विधानसभा में नमाज कक्ष के फैसले के बाद सियासी तूफान अब और बड़ा हो चुका है. अब इस मुद्दे पर दूसरे राज्यों में भी चर्चा होने लगी है. यूपी और बिहार के विधानसभा में भी ऐसी ही व्यवस्था की मांग शुरू हो चुकी है. उत्तर प्रदेश के कानपुर से सपा विधायक इरफान सोलंकी ने यूपी विधानसभा में भी नमाज पढ़ने के लिए नमाज कक्ष की व्यवस्था की बात कही है. सपा विधायक ने कहा कि सत्र के दौरान नमाज पढ़ने में परेशानी होती है, ऐसे में आस्था का ध्यान रखते हुए ये करना सही होगा.

यूपी के साथ-साथ बिहार में इस मुद्दे पर बिहार में भी चर्चा शुरू हो गई है. बीजेपी के विधायक हरिभूषण ठाकुर ने कहा है कि बिहार विधानसभा में हनुमान चालीसा पाठ करने के लिए अलग कमरा बनाया जाए, साथ ही मंगलवार की छुट्टी भी घोषित कर दी जाए. उन्होंने कहा कि संविधान सभी को बराबरी का हक देता है, अगर नमाज के लिए कमरा मिल सकता है कि तो हनुमान चालीसा के लिए क्यों नहीं? हरिभूषण ठाकुर ने कहा कि वह इस मसले पर विधानसभा अध्यक्ष से बात करेंगे, हर किसी को पूजा का अधिकार समान है. 

प्रदेश में अगले 6 महीने में योगी सरकार देगी 40 हजार युवाओं को ट्रेनिंग, 51 हजार को नौकरी दिलवाने का लक्ष्य

वहीं इस पूरे विवाद पर पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि कहा कि जो असल नमाजी होते हैं, उनको जगह ढूंढने की जरूरत नहीं होती, वो कहीं भी नमाज पढ़ सकते हैं. बिहार बीजेपी विधायक के बयान का जवाब देते हुए कहा कि जिसको माला जपना है या पूजा करनी है, वो कहीं भी कर सकते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि इस तरह के बांटने वाले लोगों से सावधान रहने की जरूरत है. इस मुद्दे पर पार्टियों के नेताओं के बयान आने शुरू हो चुके हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें