UP Election: यूपी में अब आम आदमी बन सकते हैं कांग्रेस के प्रवक्ता, ऐसे होगा चयन

Smart News Team, Last updated: Tue, 9th Nov 2021, 6:25 PM IST
  • प्रियंका गांधी की कांग्रेस पार्टी ने 'बनें यूपी की आवाज' कार्यक्रम को लांच किया जिसके जरिये आम लोग पार्टी से जुड़कर अपने जिले की आवाज बुलंद कर सकते हैं. पार्टी उत्तर प्रदेश में आम लोगों को जिला प्रवक्ता एवं कोऑर्डिनेटर बनाएगी.
फोटो- राहुल गांधी और प्रियंका गांधी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 से पहले यूपी में एक बार फिर अपना बेस बनाने की कवायद में लगी राहुल गांधी की कांग्रेस हर तरह का एक्सपेरिमेंट करने को तैयार दिख रही है. कांग्रेस की पूरी उम्मीद अपनी महासचिव प्रियंका गांधी पर टिकी है. वहीं प्रियंका गांधी कभी महिला वोटर्स का दिल जीतने के लिए 40 फीसदी टिकट महिला उम्मीदवारों को देने का ऐलान कर बड़ा सियासी दांव चला तो कभी घोषणापत्र से लुभाने की कोशिश कर रही है. इसी कड़ी में कांग्रेस विधानसभा चुनाव की तैयारियों के तहत आम लोगों को पार्टी से जोड़ने का काम कर रही है. पार्टी ने मंगलवार को 'बनें यूपी की आवाज' कार्यक्रम को लांच किया जिसके जरिये आम लोग पार्टी से जुड़कर अपने जिले की आवाज बुलंद कर सकते हैं. पार्टी उत्तर प्रदेश में आम लोगों को जिला प्रवक्ता एवं कोऑर्डिनेटर बनाएगी.

पार्टी के मीडिया कोर्डिनेटर नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने बताया कि जो लोग पार्टी से जुड़कर अपने जिले की आवाज बुलंद करना चाहता है वह इस अभियान के तहत तय मानकों को पूरा कर पार्टी का प्रवक्ता बनकर आवाज उठा सकता है. चयन का आधार योग्यता होगी, जिसके लिए जिलावार परीक्षा एवं साक्षात्कार तय तिथियों पर आयोजित किया जाएगा.

चुनाव से पहले मुसलमानों को लुभाने की कोशिश? यूपी में समाजवादी इत्र लॉन्च

इस तारीख को होगी परीक्षा

उन्होंने कहा कि जिले के प्रभारी सचिव, जिला एवं शहर अध्यक्ष तथा प्रदेश प्रवक्ता की समिति समस्त कार्यक्रमों का आयोजन एवं संचालन सुनश्चिति करेगी। सर्वप्रथम लखनऊ मण्डल के जिलों में परीक्षा आयोजित होगी जिसकी शुरूआत 15 नवम्बर को उन्नाव से आरंभ होगी जबकि 16 नवम्बर को लखनऊ,17 नवम्बर को सीतापुर,18 को हरदोई,19 नवम्बर को लखीमपुर और 20 नवम्बर को रायबरेली में परीक्षा संपन्न कराई जाएगी.

जू में धूप का मजा लेते नाग-नागिन करने लगे रोमांस, वीडियो वायरल

प्रियंका पर टिकी कांग्रेस की उम्मीद

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की पूरी उम्मीद अपनी महासचिव प्रियंका गांधी पर टिकी है. पार्टी के कई नेताओं को लगने लगा है कि प्रियंका उत्तर प्रदेश में पार्टी का वोट प्रतिशत बढ़ाने जा रही हैं और इसे छह से 30 फीसदी तक ले जाने का उनका लक्ष्य है. अब सवाल है कि क्या महिलाओं के बलबूते प्रियंका अपने मिशन में कामयाब हो पाएंगी, क्या वह यूपी में कांग्रेस को खोई हुई जमीन वापस दिला पाएंगी?

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें