दुबई से भारत करोड़ों के सोने की तस्करी, लखनऊ एयरपोर्ट पर एक गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: Sun, 14th Feb 2021, 11:46 PM IST
  • एयरपोर्ट कस्टम डिप्टी कमिश्नर निहारिका लाखा ने बताया कि इन यात्रियों ने सोने को पहले पाउडर की शक्ल में ढाला. इसके बाद जेली में मिलाकर पेस्ट बना दिया. फिर प्लास्टिक की बेल्टनुमा थैली में रखकर अपने कपड़ों के पीछे कमर के नीचे छिपा लिया था. बावजूद इसके स्कैनर में सोने का पता चल गया. यात्रियों से पूछताछ के बाद सोना बरामद कर लिया गया.
एयरपोर्ट कस्टम ने दुबई से आए यात्रियों के पास से करीब डेढ़ करोड़ का सोना बरामद किया है.

लखनऊ- रविवार को एयरपोर्ट कस्टम विभाग को बड़ी सफलता मिली. दुबई से तीन अलग-अलग विमानों से आए यात्रियों के पास से 1 करोड़ 49 लाख 10 हजार रुपए का सोना बरामद किया गया है. कस्टम कमिश्नर उत्तर प्रदेश उत्तराखंड वीपी शुक्ला ने बताया कि एक यात्री फ्लाई दुबई की उड़ान एफएक्स 8325, दूसरा स्पाइस जेट की एसजी 138 और तीसरा एयर इंडिया की 1930 से आया था. इनके पास से कुल तीन किलो सोना बरामद किया गया है. साथ ही चारों यात्रियों को गिरफ्तार कर चीफ ज्यूडीशियल मजिस्ट्रेट आर्थिक अपराध के सामने पेश किया गया है.

इससे पहले गिरफ्तार यात्रियों से पूछताछ की गई. ताकि इस तस्करी के असली मास्टरमाइंड तक पहुंचा जा सके. गिरफ्तार यात्रियों में फ्लाई दुबई से आया देवरिया का यात्री धर्मेन्द्र यादव, बलिया का कृष्ण कुमार सिंह, स्पाइस जेट से आया कुशीनगर का रियाजुद्दीन कुरैशी और एयर इंडिया की उड़ान से आया कुशीनगर का अजय कुमार शामिल है.

रियल लाइफ का 'टाइगर' जिंदा तो है लेकिन दाने-दाने को है परेशान, पूर्व रॉ एजेंट खा रहा ठोकर

एयरपोर्ट कस्टम डिप्टी कमिश्नर निहारिका लाखा ने बताया कि इन यात्रियों ने सोने को पहले पाउडर की शक्ल में ढाला. इसके बाद जेली में मिलाकर पेस्ट बना दिया. फिर प्लास्टिक की बेल्टनुमा थैली में रखकर अपने कपड़ों के पीछे कमर के नीचे छिपा लिया था. बावजूद इसके स्कैनर में सोने का पता चल गया. यात्रियों से पूछताछ के बाद सोना बरामद कर लिया गया.

लखनऊ में 57 हजार लोग अंगूठा टेक, पुरुषों के मुकाबले दो गुना ज्यादा महिलाएं निरक्षर, अब पढ़ेंगे

पूर्व राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी पीजीआई के आईसीयू वार्ड में शिफ्ट, हालत नाजुक

UP में अब कंडक्टर भर्ती के लिए कंप्यूटर नॉलेज होना अनिवार्य

अब पीने का पानी दूषित निकला तो मिलेगा मुआवजा, जाने कैसे और कहां करें शिकायत

पंचायत चुनाव: BSP समर्थित प्रत्याशियों को जिताने का जिम्मा जोनल को-ऑर्डिनेटर पर

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें