अजीत सिंह हत्याकांड: पूर्व सांसद धनंजय सिंह की याचिका खारिज, सरेंडर करने का आदेश

Smart News Team, Last updated: Mon, 12th Apr 2021, 3:19 PM IST
  • हाईकोर्ट लखनऊ बेंच ने सोमवार को अजीत सिंह हत्याकांड में साजिश रचने के मुख्य आरोपी पूर्व सांसद धनंजय सिंह की याचिका को खारिज कर दिया है. इसी के साथ उन्हें दो हफ्ते में सरेंडर करने के लिए कहा है.
अजीत सिंह हत्याकांड में पूर्व सांसद धनंजय सिंह की याचिका खारिज.

लखनऊ. लखनऊ के विभूतिखंड में अजीत सिंह हत्या मामले में हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने पूर्व सांसद धनंजय सिंह की याचिका को खारिज कर दिया है. आरोपी पूर्व सांसद धनंजय सिंह को 2 हफ्ते में सरेंडर करने का आदेश दिया गया है.  कोर्ट ने कहा है कि धनंजय सरेंडर करने के बाद जमानत अर्जी दाखिल करें. 

कोर्ट ने एफआईआर निरस्त करने की अर्जी खारिज करते हुए कहा कि सरेंडर करने बाद वह जमानत अर्जी डालें. अजीत सिंह हत्याकांड के बाद से धनंजय सिंह फरार हैं. पुलिस ने उनपर 25 हजार का इनाम घोषित किया है. पुलिस धनंजय सिंह को भगोड़ा घोषित करने की तैयारी में है. 

UP पंचायत चुनाव में एक दूसरे खिलाफ उतरीं देवरानी-जेठानी, ऐसे कर रहीं प्रचार

पूर्व बाहुबली सासंद धनंजय सिंह का नाम अजीत सिंह हत्याकांड की साजिश रचने में सामने आया था. गैंगवार में घायल शूटर का इलाज करने वाले सुल्तानपुर के डॉ. एके सिंह ने पुलिस को पूछताछ में बताया था कि धनंजय सिंह ने ही उन्हें फोन करके घायल का इलाज करने के लिए कहा था. 

योगी सरकार का फैसला- UP में चलाएं बारिश का पानी बचाने के लिए विशेष अभियान

जानकारी के लिए बता दें कि विभूतिखंड क्षेत्र में 6 जनवरी की शाम मऊ जिले के गोहना के पूर्व प्रमुख अजीत सिंह और उसके साथी मोहर सिंह पर गोलियां चलाई गई थीं. अजीत सिंह पर 25 गोलियां फायर की गई थीं.  

राजधानी लखनऊ में बढ़ते कोरोना से 950 इलाकों में बैरिकेडिंग, 1091 घर सील 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें