अखिलेश यादव का ऐलान, यूपी में सपा सरकार 3 महीने के अंदर कराएगी जातीय जनगणना

Ankul Kaushik, Last updated: Tue, 14th Dec 2021, 4:01 PM IST
  • सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जौनपुर में समाजवादी विजय यात्रा के दौरान कहा कि सपा सरकार आएगी, 3 महीने के अंदर जातीय जनगणना कराकर सभी की भागीदारी और सभी को सम्मान दिलाने का काम करेंगे. इसके साथ ही यूपी के सत्ताधारी पार्टी बीजेपी पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा BJP जाति जनगणना नहीं कर रही है.
अखिलेश यादव, फोटो क्रेडिट (सपा ट्विटर)

लखनऊ. समाजवादी विजय यात्रा के दौरान सपा अध्यक्ष अखिलेश ने कहा कि BJP जाति जनगणना नहीं कर रही है. दिल्ली वाले करें या ना करें, सपा सरकार आएगी, 3 महीने के अंदर जातीय जनगणना कराकर सभी की भागीदारी और सभी को सम्मान दिलाने का काम करेंगे. यह कभी हमारे और आपके बीच में नफरत फैला देते हैं. हम अपने साथियों से यह कहकर जा रहे हैं कि अगर जरूरत पड़ी और जातियों की जनगणना करनी पड़ी. यूपी विधानसभा के आगामी चुनाव को देखते हुए जौनपुर में अखिलेश यादव ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधा. अखिलेश ने कहा किसानों की आय दोगुनी नहीं हुई बल्कि इस महंगाई में अगर हिसाब किताब लगाएगा तो उसकी आधी कमाई है. हम अपने साथियों से यह कहकर जा रहे हैं कि अगर जरूरत पड़ी और जातियों की जनगणना करनी पड़ी.

इसके साथ ही अखिलेश ने अपने सहयोगी दलों के बारे में कहा कि इस रैली में हमें ओमप्रकाश राजभर जी के पीले पीले झंडे दिखाई दे रहे हैं. संजय चौहान जी के नीले नीले झंडे दिखाई दे रहे हैं और कृष्णा पटेल जी के झंडे हमें दिखाई दे रहे हैं. बदलाव लाना इसलिए जरूरी है क्योंकि हमारा किसान दुखी है, हमारा किसान निराश हो गया है. किसानों के चेहरे पर मुस्कान और खुशहाली लाने का काम हम सब लोग मिलकर करेंगे.

PM के मजदूरों संग खाना खाने पर अखिलेश बोले- पौष्टिक आहार की योजना क्यों बंद की?

वहीं इस दौरान अखिलेश ने कहा कि अगर संविधान बचेगा तो हमारा आपका सम्मान बचेगा. अगर संविधान नहीं बचेगा तो हमारा और आपका लोकतंत्र में कोई सहारा नहीं बचेगा. इसलिए समाजवादियों और अंबेडकरवादियों मिलकर इस भाजपा को हटाने का काम करें. यूपी विधानसभा चुनाव के लिए अखिलेश की समाजवादी रथ यात्रा पूरे प्रदेश में घूम रही है. अखिलेश के साथ जहां पश्चिम उत्तर प्रदेश में जयंत हैं तो वहीं पूर्वांचल में उनके साथ सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर हैं. अब देखना ये होगा कि इनका गठबंधन अखिलेश को सत्ता दिला पाएगा या नहीं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें