विश्वनाथ धाम उद्घाटन से पहले अखिलेश का दावा, सपा सरकार में कॉरिडोर का प्रस्ताव पास हुआ

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Sun, 12th Dec 2021, 3:44 PM IST
  • सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने काशी विश्वनाथ मंदिर के उद्घाटन से पहले इसके पुननिर्माण के प्रस्ताव को समाजवादी सरकर में पास होने का दावा किया है. अखिलेश यादव ने कहा कि काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का प्रस्ताव हमारी सरकार ने कैबिनेट में सबसे पहले पास करवाया था.
विश्वनाथ धाम उद्घाटन से पहले अखिलेश का दावा, सपा सरकार में कॉरिडोर का प्रस्ताव पास हुआ

लखनऊ. समजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने काशी विश्वनाथ मंदिर के कॉरिडोर के उद्घाटन से पहले ही इसके पुननिर्माण के प्रस्ताव को सपा सरकार में प्रस्ताव को पास करवाने का दावा किया है. इसके साथ ही अखिलेश यादव ने इसे साबित करने का भी दावा किया है. अखिलेश यादव ने कहा कि काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का प्रस्ताव हमारी सरकार ने कैबिनेट में सबसे पहले पास करवाया था. जिसे हम साबित भी कर देंगे. इसके साथ ही अखिलेश यादव ने कहा कि सवाल लाल टोपी का नहीं, असल मुद्दों पर बीजेपी बहस नहीं चाहती है. 

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि जनता जो इम्तहान लेने जा रही है, उसमें भाजपा के फेल होना तय है. इसके साथ ही अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022  को लेकर कहा कि सपा की सरकार बनने पर गोरखपुर विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाने के लिए केंद्र सरकार के पास प्रस्ताव भेजा जाएगा. रुकी हुई परीक्षाएं करवाई जाएंगी. अखिलेश ने कहा कि यूपी चुनाव 2022 टफ नहीं बल्कि एकतरफा है.

BJP, BSP विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले- यूपी चुनाव टफ नहीं, एकतरफा है

समाजवादी पार्टी में रविवार को बीजेपी और बसपा विधायक अखिलेश यादव की मौजूदगी में शामिल हो हुए. बीजेपी विधायक जय चौबे, बसपा विधायक विजय शंकर तिवारी, पूर्व सांसद कुशल तिवारी अपने भाई व पूर्व सांसद कुशल तिवारी के साथ सपा में शामिल हुए. इनके साथ ही गणेश शंकर पांडेय और पायल किन्नर भी सपा की सदस्यता ली.

बता दें कि 13 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का उद्घाटन करने वाले है. जिसके उद्घटान के बाद यहां पर काशी चलो करके एक महीने के लिए महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है. वहीं बीजेपी सरकार काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के पुननिर्माण को अपने उपलब्धियों में भी शामिल कर रहा है. जिसे देखते हुए अखिलेश यादव ने सरकार पर हमला किया बताया जा रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें