फिर भयानक हो रहे कोरोना के हालात, यूपी में इस तारीख तक सभी स्कूल बंद

Smart News Team, Last updated: Fri, 2nd Apr 2021, 5:34 PM IST
  • उत्तर प्रदेश में कोरोना के प्रकोप को देखते हुए 11 अप्रैल तक सभी स्कूल बंद रहेंगे. पहली से 8वीं तक स्कूल को बंद करने का फैसला सीएम योगी आदित्यनाथ ने लिया. वहीं अनऐडड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने 12वीं तक के सभी स्कूलों को बंद करने का निर्णय लिया.
अनऐडड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने 11 अप्रैल तक सभी स्कूलों को बंद करने का फैसला किया. प्रतीकात्मक तस्वीर

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पहली कक्षा से 8वीं तक स्कूलों को 11 अप्रैल तक बंद करने के निर्देश दिए हैं. वहीं अनऐडड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने पहली कक्षा से 12वीं तक के सभी स्कूलों को 11 अप्रैल तक बंद करने का फैसला किया है. इस तरह से यूपी में 11 अप्रैल तक सभी स्कूल बंद रहेंगे.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कोविड-19 की स्थिति को लेकर अधिकारियों के साथ उच्चस्तरीय बैठक में समीक्षा की. सीएम ने कहा कि कोरोना प्रोटोकाॅल का सख्ती से पालन कराया जाए. इस मीटिंग में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कोरोना टेस्टिंग का काम पूरी क्षमता से किया जाए. फोकस टेस्टिंग पर पर विशेष ध्यान दिया जाए. उन्होंने कहा कि बालिका संरक्षण गृह, वृद्धाश्रम, अनाथाश्रम, रेजिडेन्शिल स्कूल में कोरोना टेस्टिंग प्राथमिकता पर की जाए.

UP में तेजी से बढ़ रहे कोरोना केस, 1-8वीं कक्षा के स्कूल 11 अप्रैल तक रहेंगे बंद

केरोना वायरयस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए अनऐडड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने भी पहली कक्षा से 12तक के सभी स्कूलों को 11 अप्रैल तक बंद करने का फैसला किया है. इस दौरान कक्षाएं पूरी तरह से ऑनलाइन चलेंगी. शिक्षक स्कूलों में आकर परीक्षा के कार्य को कर सकते हैं. इस दौरान को स्कूलों को पूरी तरह से सैनिटाइज किया जाएगा. 

लखनऊ में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण सख्ती, बगैर मास्क के घर से ना निकलें

इस बारे में अन-ऐडड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल ने कहा कि एसोसिएशन की सभी विद्यालयों से बात हो गई है. जो भी एसोसिएशन से जुड़े विद्यालय हैं चाहे वो सीतावपुर, लखीमपुर, वाराणसी हरदोई और लखनऊ के हों, उन्होंने इस फैसले का स्वागत किया है. उन्होंने बताया कि शिक्षकों को ऑनलाइन क्लासेज को बेहतर और रोचक बनाने के लिए स्कूल में आकर पूरा खाका तैयार करना होगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें