लखनऊ में एक ही कोरोना मरीज में निकले तीनों फंगस, 3 घंटे के ऑपरेशन के बाद बची जान

Smart News Team, Last updated: Fri, 4th Jun 2021, 7:38 AM IST
  • यूपी की राजधानी लखनऊ में एक ही कोरोना मरीज में तीनों फंगस यानी व्हाइट, ब्लैक और येलो पाए गए. राजधानी अस्पताल के डॉक्टरों ने 3 घंटे के ऑपरेशन के बाद मरीज को बचा लिया. मरीज एक महीने पहले कोराेना पॉजिटिव आया था. 
लखनऊ में एक ही कोरोना मरीज में तीनों फंगस निकले. 3 घंटे के ऑपरेशन के बाद मरीज को बचाया गया. ( प्रतीकात्मक तस्वीर )

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कोरोना संक्रमण के बाद एक ही मरीज में तीनों फंगस पाए जाने का पहला मामला सामने आया है. मरीज में तीनों फंगस यानी व्हाइट, ब्लैक और येलो मिले. राहत की बात है कि डॉक्टरों ने 3 घंटे के ऑपरेशन के बाद मरीज को बचा लिया है. फैजाबाद निवासी सरस्वती यादव 1 महीने पहले कोरोना पॉजिटिव हुए और इलाज के बाद वह स्वस्थ्य हो गए थे, उनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आ गई थी.

जानकारी के अनुसार चेहरे में भारीपन होने के चलते सरस्वती यादव लखनऊ स्थित राजधानी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती हुए. इलाज के दौरान डॉक्टरों ने फंगस होने की जांच की तो पता चला कि मरीज तीनों फंगस से पीड़ित हैं. इसके बाद डॉक्टरों ने मरीज कर उसे तीनों फंगस यानी व्हाइट, ब्लैक और येलो से बचाया.

यूपी बोर्ड 12वीं और 10वीं का रिजल्ट ऐसे होगा तैयार, जानें फुल डिटेल्स

राजधानी अस्पताल के हेड और नेक के सर्जन डॉक्टर अनुराग ने बताया कि यह मरीज फैजाबाद से आया था जिसे पोस्ट कोविड-19 से संबंधित शिकायत थी. मरीज के चेहरे में भारीपन था. इसके बाद मरीज की फंगस जांच हुआ तो पता चला कि मरीज व्हाइट, ब्लैक और येलो फंगस से पीड़ित हैं. डॉक्टर ने कहा कि यलो फंगस नार्मल टाइप में होता है, क्योंकि वह ब्लड के मिक्सचर और इन्फेक्शन से बन जाता है.

बता दें कि लखनऊ में कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद एक ही व्यक्ति के अंदर तीनों फंगस पाए जाने का पहला मामला सामना आया है. इससे पहले गाजियाबाद में एक ही व्यक्ति के अंदर तीनों फंगस पाए गए थे.

प्रियंका का मोदी सरकार से सवाल- कहां खर्च हुआ वैक्सीन का 35 हजार करोड़ का बजट?

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें