इलाहबाद HC का आदेश: अब गैर शैक्षणिक कार्यों को नहीं करेंगे शिक्षक

Smart News Team, Last updated: Wed, 14th Jul 2021, 12:34 PM IST
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शिक्षकों के लिए एक बड़ा आदेश जारी किया है. इस आदेश के अनुसार टीचर्स से अब गैर शैक्षणिक कार्य नहीं कराए जाएंगे. इलाहबाद हाई कोर्ट ने इस आदेश को शिक्षा के अधिकार के अधिनियम 2009 का जिक्र करते हुए जारी किया है.
अब गैर शैक्षणिक कार्यों में नहीं लगेगी शिक्षकों की ड्यूटी

लखनऊ. इलाहबाद हाईकोर्ट ने शिक्षकों के लिए एक बड़ा आदेश दिया है. शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 का जिक्र करते हुए इलाहबाद ने हाईकोर्ट ने आदेश जारी किया है जिसमें बताया गया है कि अब शिक्षकों से गैर शैक्षणिक कार्य नहीं कराए जाएंगे. इस मामले को लेकर कोर्ट ने सभी जिलों के डीएम को निर्देश जारी कर दिया है.

इसके साथ ही हाई कोर्ट ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को भी आदेश जारी करने का निर्देश जारी कर दिया है. कोर्ट ने दो टूक कह दिया है कि शिक्षक अब सिर्फ आपदा, जनगणना और सामान्य निर्वाचन में ही इनसे काम कराया जाएगा. इसके साथ ही कोर्ट ने कहा है कि अनिवार्य शिक्षा कानून को लेकर सुनीता शर्मा और अन्य की ओर से दाखिल की गई जनहित याचिका में पारित आदेश का कड़ाई से पालन किया जाए.

बता दें कि अब तक शिक्षकों से मिड डे मील बंटवाना, भवन और बाउंड्री वॉल का निर्माण, रंगाई पुताई, स्कूल के खातों का संचालन, आधार कार्ड बनवाने में मदद जैसे बहुत से गैर शैक्षणिक काम कराए जाते थे. अब शिक्षा का अधिकार अधिनियम, 2009 के तहत शिक्षकों की ड्यूटी गैर शैक्षिक कार्यों में नहीं लगाई जा सकती.

योगी सरकार के जनसंख्या नियंत्रण बिल से हर वर्ग को पहुंचेगा नुकसान- दारुल उलूम

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें