पशुपालन विभाग टेंडर घोटाले में फरार 50 हजार का इनामी सिपाही दिलबहार गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 15/12/2020 11:30 AM IST
  • पशुपालन विभाग के नाम पर करोड़ों की ठगी मामले में आरोपित निलंबित सिपाही दिलबहार यादव को पुलिस ने सोमवार देर रात गिरफ्तार कर लिया.
(प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ: पशुपालन विभाग के नाम पर करोड़ों की ठगी मामले में आरोपित निलंबित सिपाही दिलबहार यादव को पुलिस ने सोमवार देर रात गिरफ्तार कर लिया. जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश एसटीएफ काफी दिनों से आरोपित सिपाही दिलबहार यादव की तलाश में थी. इस प्रकरण में पुलिस टीम गठित की गई थी, जिसके बाद आरोपित को सोमवार देर रात गिरफ्तार कर लिया गया.

पुलिस के मुताबिक आरोपी दिलबहार यादव ने भ्रष्टाचार निवारण कोर्ट में सोमवार को आत्मसमर्ण करने की अर्जी डाली थी. वह हजरतगंज में दर्ज पशुपालन घोटाले की एफआईआर में नामजद था. इस पर पुलिस की ओर से 50 हजार रुपये का इनाम घोषित था. आरोपित पीड़ित इंदौर निवासी व्यापारी को कोतवाली लेकर गया था और वहां धमकी दी थी. पुलिस टीम आरोपित की तलाश में दबिश दे रही थी. पुलिस आयुक्त के निर्देश पर सर्विलांस टीम की मदद से आरोपित को दबोच लिया गया.

पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फबारी, यूपी समेत इन राज्यों में पड़ेगी कड़ाके की ठंड़

आपको बता दें कि पशुपालन विभाग के नाम पर करोड़ों की ठगी मामले में आरोपी निलंबित डीआईजी अरविंद सेन पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है. सेन की गिरफ्तारी के लिए बीते दिनों पुलिस ने गैर जमानती वारंट हासिल किया था. सोमवार को उनकी संपत्ति की कुर्की की कागजी कार्रवाई भी शुरू कर दी गई.

LPG घरेलू गैंस सिलेंडर 50 रूपए महंगा, कामर्शियल सिलेंडर के भी बढ़े दाम

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें