लखनऊ से ऑक्सीजन एक्सप्रेस बोकारो रवाना, जानें यूपी ने कितने पैसे रेलवे को दिए

Smart News Team, Last updated: Sat, 24th Apr 2021, 1:10 PM IST
  • शनिवार तड़के ऑक्सीजन एक्सप्रेस की पहली खेप पहुंचने के बाद दूसरी ऑक्सीजन एक्सप्रेस रैक को भी रवाना कर दिया गया.
लखनऊ से ऑक्सीजन एक्सप्रेस बोकारो रवाना, जानें यूपी ने कितने पैसे रेलवे को दिए

लखनऊ: राजधानी लखनऊ में ऑक्सीजन की कमी के बीच एक राहत भरी खबर है. शनिवार तड़के ऑक्सीजन एक्सप्रेस की पहली खेप पहुंचने के बाद दूसरी ऑक्सीजन एक्सप्रेस रैक को भी रवाना कर दिया गया. शनिवार तड़के पांच बजे चारबाग रेलवे स्टेशन से 4 टैंकर और 2 टैंकर वाराणसी से लोड होकर बोकारो प्लांट के लिए रवाना हो गया.

ये ऑक्सीजन एक्सप्रेस वापस सोमवार की सुबह लखनऊ पहुंचेगी. चार ऑक्सीजन टैंकरों को ड्रग कंट्रोलर के रिपोर्ट पर जिस जिले में सोमवार तक ऑक्सीजन की ज्यादा जरूरत होगी. वहां ऑक्सीजन टैंकर भेजा जाएगा. फिलहाल चार टैंकरों में दो लखनऊ में बाकी दो अलग-अलग जनपदों में भेजने का प्लान बनाया गया है.

सरकार का फैसला, निजी अस्पतालों में 70 फीसदी बेड पर कोविड मरीजों की होगी भर्ती

सुरक्षा के लिए जीआरपी

लखनऊ से बोकारो प्लांट को रवाना हुई ऑक्सीजन एक्सप्रेस के साथ एक जीआरपी उपनिरीक्षक और दो कांस्टेबल का एस्कॉर्ट भी भेजा गया है, ताकि ऑक्सीजन को सुरक्षित लखनऊ लाया जा सके. रास्ते में किसी भी तरह का कोई अड़चन नहीं आए इसके लिए यूपी के साथ बिहार और झारखंड जीआरपी मुख्यालय को अलर्ट किया गया है ताकि वो सफलता पूर्वक ऑक्सीजन एक्स्प्रेस का संचालन करा सकें.

हर स्टेशन पर जीआरपी और आरपीएफ थाने को अपने यहां से ऑक्सीजन एक्सप्रेस के सफलता से गुजर जाने की रिपोर्ट देनी होगी. जबकि ग्रीन कॉरिडोर के लिये लखनऊ, वाराणसी, दीन दयाल उपाध्याय नगर और गया कंट्रोल रूम में कंट्रोलर बिठाए गए हैं. एसपी जीआरपी सौमित्र यादव ने बताया कि हम ऑक्सीजन एक्सप्रेस की सुरक्षा के लिए पूरी तरह तैयार हैं.

औराई के बीजेपी विधायक की कोरोना से हुई मौत, कई दिनों से मेरठ में थे भर्ती

ऑक्सीजन टैंकरों की ढुलाई के लिए उत्तर रेलवे को 20 करोड़ का भुगतान

उत्तर प्रदेश सरकार ने ऑक्सीजन सिलेंडर की ढुलाई के लिए उत्तर रेलवे को 20 करोड़ का भुगतान किया है. प्रदेश के विभिन्न शहरों में ऑक्सीजन सिलेंडर की तेजी से आपूर्ति के लिए सरकार रेलवे का सहयोग ले रही है. मुख्य कोषाधिकारी जवाहर भवन स्वतंत्र कुमार ने बताया कि राहत आयुक्त की ओर से ऑक्सीजन टैंकरों को विभिन्न शहरों में पहुंचाने के लिए उत्तर रेलवे को 20 करोड़ रुपये जारी किये गए हैं, जिसका भुगतान कोषागार की ओर से तत्काल करा दिया गया है.

28 अप्रैल से शुरू होंगे वयस्कों के कोरोना वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन, जानें कैसे और कहां करे

लखनऊ पहुंचे दो ऑक्सीजन टैंकरों में एक लखनऊ के नादरगंज तो दूसरा बाराबंकी ऑक्सीजन प्लांट भेजा गया है. पहले एक टैंकर को कानपुर भेजने का प्लान था लेकिन बाद में दोनों टैंकरों को ऑक्सीजन की बढ़ती मांग पर लखनऊ में उतारने का निर्णय लिया गया. बताया जा रहा है कि आपात स्थिति में कानपुर की जरूरत को भी यहीं से पूरा किया जायेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें