15 दिन पहले बुक करें टिकट और आधे किराए में लें हवाई सफर का मजा

Uttam Kumar, Last updated: Thu, 23rd Sep 2021, 11:49 AM IST
नागरिक उड्डयन मंत्रालय की तरफ से महीने में 15 दिन खुद किराया तय कर करने की छूट मिलने के बाद विमान कंपनी ने पहले टिकट बुक कराने वाले यात्रियों को राहत देना शुरू कर दिया है. अभी 15 दिन पहले टिकट बुक करने पर 3000 रुपये से भी कम लग रहा है. पहले किसी भी समय फ्लाइट का किराया 3000 रुपये से कम नहीं लगता था.
फाइल फोटो

लखनऊ. नागरिक उड्डयन मंत्रालय की तरफ से छूट मिलने के बाद विमान कंपनी ने पहले टिकट बुक कराने वाले यात्रियों को राहत देना शुरू कर दिया है. घरेलू विमानन में सबसे बड़ी कंपनी इंडिगो ने 15 दिन पहले बुकिंग कराने वाले को छूट दे रही है. अभी 15 दिन पहले टिकट बुक करने पर 3000 रुपये से भी कम लग रहा है.लखनऊ से कोलकत्ता के लिए 22 अक्टूबर का किराया 1754 रुपया है. वहीं 23 अक्टूबर को लखनऊ से दिल्ली का किराया 1847 रुपया है. यात्री अब पहले टिकट बुक करवाकर सस्ते में यात्रा कर सकते हैं.  

दरअसल 18 सितंबर को नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने विमान कंपनियों को महीने में 15 दिन खुद किराया तय कर करने की इजाजत दी है. अब विमान कंपनियां को महीने में 15 दिन सरकारी किराया मानना होगा और बाकी के 15 दिन वह खुद का किराया तय कर सकते हैं. सबसे बड़ी बात है नागरिक मंत्रालय द्वारा विमान कंपनी को महीने में 15 दिन किराया तय करने की दिए गए छूट में किसी तरह की न्यूनतम और अधिकतम सीमा भी तय नहीं है. इसका मतलब विमान कंपनियां महीने के 15 दिन का किराया तय करने के लिए पुरी तरह स्वतंत्र है. 

नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने कोरोना महामारी की स्थिति को देखते हुए विमान में यात्रियों की क्षमता को 72.5% से बढ़ाते हुए 85% कर दिया है. हालांकि कुछ विशेष छूट के अलावा  30 सितंबर तक अभी भी विदेशी यात्रा पर पाबंदी है. कोरोना महामारी के कारण कंपनियों को काफी नुकसान उठान पड़ा है. कोरोना महामारी के कारण सारी सेवा बंद कर दी गई थी. अब धीरे- धीरे घरेलू सेवा शुरू हुई है.

सीएम योगी ने लखनऊ भाजपा मुख्यालय में पीएम मोदी के जीवन पर आधारित प्रदर्शनी का किया उद्घाटन

लखनऊ में अब रेलवे की तरह बसों को भी ट्रैक कर पाएंगे अब यात्री, ऑनलाइन पता लगेगा किराया

कोरोना की वजह से लखनऊ में टूट जाएगी दुर्गा पूजा से जुड़ी 106 साल पुरानी परंपरा?

योगी सरकार ने अखाड़ा परिषद अध्यक्ष नरेंद्र गिरि की मौत की CBI जांच की सिफारिश भेजी

 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें