मैराथन में 55 साल की आशा सिंह ने 12 घंटे में 100 KM की दौड़ लगाकर बनाया ये रिकॉर्ड

Smart News Team, Last updated: 09/12/2020 12:32 PM IST
  • पीएसी महानगर स्टेडियम के सिंथेटिक ट्रैक पर आयोजित मैराथन में 55 साल की आशा सिंह ने 12 घंटे लगातार दौड़ लगाके और 100 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली देश की पहली महिला बन गई हैं. 
आशा सिंह अपने पति कर्नल बजरंग सिंह के साथ.

लखनऊ. रायबरेली रोड स्थित एल्डिको ग्रीन निवासी आशा सिंह 55 साल की उम्र में 12 घंटे लगातार दौड़ लगाके और 100 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली वह देश की पहली महिला बन गई हैं.  पीएसी महानगर स्टेडियम के सिंथेटिक ट्रैक पर रविवार को मैराथन आयोजित हुआ. इसमें 55 वर्षीय आशा सिंह ने हिस्सा लिया था. 

आशा सिंह सुबह चार बजे से दौड़ शुरू की और शाम चार बजे खत्म की. लगातार 12 घंटे दौड़ पूरी करने के बाद ही उन्होंने कुछ खाया. दौड़ के दौरान आशा सिंह ने रिफ्रेशमेंट ब्रेक भी नहीं लिया. बीच में वह रुक-रुक कर पानी पिया और इनर्जी ड्रिंक भी लिया. मैराथन के परिणाम आने के बाद उन्होंने सबको चौका दिया. लगातार 12 घंटे और 100 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली वह पहली अपने उम्र की पहली बन गई हैं. भले ही उनकी उम्र 55 की हो, लेकिन उनके अंदर जोश बच्चों जैसा है. 

लखनऊ में 16 दिसंबर से बाबू बनारसी दास क्रिकेट लीग शुरू, पूर्वांचल लीग स्थगित

आशा सिंह अभी तक 15 फुल मैराथन (42.2 किलोमीटर) और 35 हाफ मैराथन (21 किलोमीटर) को पूरा कर चुकी हैं. आशा सिंह फुल मैराथन में 4 घंटा 15 मिनट और हॉफ मैराथन में 1 घंटा 58 मिनट दौड़ी है. आशा सिंह पिछले महीने दिल्ली में आयोजित हुई मैराथन में भी अपने आयु वर्ग में प्रथम स्थान पर रहीं है.

11 दिसंबर को होगा अंडर 14 क्रिकेट ट्रायल, जानें कहां और कैसे होगा

आशा सिंह के पति कर्नल बजरंग सिंह भी मैराथन धावक हैं. वह 2014 में सेना से रिटायर हुए थे. इसके बाद से आशा सिंह अपने पति के साथ दौड़ना शुरू की, फिर उन्होंने मैराथनों में भाग लेना शुरू किया. आशा सिंह के पति कर्नल बजरंग सिंह अपनी कैटेगरी में देश के पहले ऐसे धावक बने, जिसने विश्व प्रसिद्ध बोस्टन मैराथन में प्रथम स्थान हासिल किया. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें