लखनऊ में फ्लीट नहीं मिली तो एयरपोर्ट से टैक्सी में होटल गए असम CM हिमांता बिस्वा Sarma

Shubham Bajpai, Last updated: Thu, 16th Dec 2021, 12:27 PM IST
  • काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के दर्शन करने पहुंचे सभी भाजपा शासित राज्यों के सीएम अब लखनऊ पहुंच अपने राज्यों को लौट रहे हैं. इस बीच असम सीएम हिमंता बिस्वा सरमा को समन्वय ठीक न होने की वजह से फ्लीट के बिना टैक्सी से होटल जाना पड़ा. टैक्सी से होटल पहुंचने की जानकारी होते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया.
फ्लीट न मिलने पर लखनऊ एयरपोर्ट से टैक्सी लेकर होटल पहुंचे असम CM हिमंता बिस्वा, मचा हड़कंप (फाइल फोटो)

लखनऊ. राजधानी एयरपोर्ट में फ्लीट तैयार होने के बाद भी असम मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा को टैक्सी से होटल जाना पड़ा. लखनऊ में अपने चार्टर्ड विमान से हिमंता बिस्वा लखनऊ पहुंचे. इस दौरान समन्वय ठीक से न होने की वजह से उनका विमान वीआईपी हैंगर की जगह डोमेस्टिक टर्मिनल में उतर गया. जिसके चलते उनकी फ्लीट वाआईपी हैंगर में ही खड़ी रही और वो डोमेस्टिक टर्मिनल से निकलकर टैक्सी करके गोमतीनगर होटल पहुंच गए.

सीएम के न पहुंचने पर मचा हड़कंप

विमान आने की सूचना के बाद सीएम हिमंता के न आने पर प्रशासन में हड़कंप मच गया. इस दौरान चौकी से लेकर उच्चाधिकारियों की चिंता बढ़ गई. इसके बाद सूचना आई की सीएम हिमंता टैक्सी से गोमती नगर होटल पहुंच चुके हैं.

यूपी टीईटी पेपर लीक के मुख्य आरोपी डॉ. संतोष को STF ने लखनऊ से किया गिरफ्तार

इस वजह से नहीं मिल सकी फ्लीट

सीएम को रिसीव करने फ्लीट लखनऊ एयरपोर्ट के वीआईपी हैंगर पर खड़ी थी, लेकिन समन्वय न होने की वजह से विमान राज्य सरकार के हैंगर की बजाए साधारण बे में पहुंच गया. वहां से सीधे डोमेस्टिक टर्मिनल से बाहर निकलने का रास्ता था और वहां से वीआईपी हैंगर करीब आधा किमी दूर है. जिसके बाद बाहर इंतजार करने के बाद हिमंता को कोई नहीं देखा तो वो टैक्सी करके होटल पहुंच गए.

पत्नी ने दिया टैक्सी का किराया

सीएम ने होटल पहुंचकर टैक्सी से उतर गए. इस दौरान उनकी पत्नी ने टैक्सी का किराया चुकाया. इस दौरान चौकी इंचार्ज से लेकर एसीपी समेत सभी की चिंता बढ़ गई थी कि सीएम हिमंता कहां चले गए. जिसके बाद होटल में चेकइन होने की सूचना के बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली.

अमेठी में 18 दिसंबर को कांग्रेस की महंगाई हटाओ रैली में राहुल और प्रियंका गांधी

ये है प्रोटोकॉल

बता दें कि एयरपोर्ट पर अति विशिष्ट अतिथियों के लिए वीआईपी हैंगर होता है. इसकी जिम्मेदारी राज्य सरकार के नागरिक उड्डयन विभाग की होती है. यह रनवे से सटा होता है विश्राम के लिए लाउंज की व्यवस्था है. विमान उतरने के बाद इस छोर पर रोका जाता है. जहां से अतिथि फ्लीट के साथ रवाना हो जाते हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें